पिछले साल जिंबाब्वे के खिलाफ अपने पहले ही वनडे मैच में शतक लगाकर लोकेश राहुल ने एक अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था. लोकेश राहुल अपने पहले ही वनडे मैच में शतक जमाने वाले एकलौते भारतीय बल्लेबाज बन गए थें. इससे पहले कोई भी भारतीय बल्लेबाज अपने वनडे पहले मैच में शतक नहीं लगा पाया था. कुछ बल्लेबाज ऐसे थे जो शतक के करीब पहुंचे लेकिन शतकीय पारी नहीं खेल पाएं. तो आइए अपने पहले वनडे मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाजों के बारे में जानते हैं.

लोकेश राहुल (100*)

2016 के जिंबाब्वे दौरे पर गई भारतीय टीम की ओर से लोकेश राहुल ने अपने पहले ही मैच में शतक जमाने वाले पहले बल्लेबाज बनने का गौरव हासिल किया. लोकेश राहुल ने 115 गेंदों पर 7 चौकों और 1 छक्के की बदौलत 100* रनों की पारी खेली. लोकेश राहुल ने इस मैच में छक्का लगाकर ना सिर्फ अपना शतक पूरा किया बल्कि भारत को जीत भी दिलाई.

रॉबिन उथप्पा (86)

2006 में भारत दौरे पर आई इंग्लैंड के खिलाफ अपना पहला मैच खेलते हुए रॉबिन उथप्पा ने 86 रनों की पारी खेली थी. रॉबिन उथप्पा ने 12 चौके और 1 छक्के की मदद से 96 गेंदों में 86 रन बनाए थे. ये उस दौर में किसी भी भारतीय बल्लेबाज द्वारा पहले वनडे में बनाया गया सबसे बड़ा स्कोर था.

बृजेश पटेल (82)

1974 में बृजेश पटेल ने अपना पहला वनडे मैच खेला था. मैच में बृजेश पटेल ने बल्ले से शानदार प्रदर्शन करते हुए सुनील गावस्कर, गुंडप्पा विश्वनाथ जैसे बल्लेबाजों को पीछे छोड़ते हुए 82 रनों की आक्रामक पारी खेली. बृजेश पटेल ने मात्र 78 गेंदों 8 चौके और 2 छक्कों की मदद से 82 रन ठोंक दिये.

नवजोत सिंह सिद्धू (73)

अपनी बेबाक बोली और शायरी के लिए मशहूर भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने पहले ही वनडे में शानदार अर्धशतक जमाते हुए 73 रनों की पारी खेली थी. 1987 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चेपक की पिच पर सिद्धु ने कंगारू गेंदबाजों की खबर लेते हुए 79 गेंदों पर 4 चौकों और 5 छक्कों की बदौलत 73 रनों की पारी खेली थी, हालांकि उनकी इस शानदार बल्लेबाजी के बावजूद भारत को 1 रन से हार का सामना करना पड़ा.

मनीष पांडे (71)

मौजूदा दौर में भारतीय टीम के सबसे टैलेंटेड युवा खिलाड़ियों में से एक मनीष पांडे नें 2015 में जिंबाब्वे दौरे पर अपने पहले मैच में शानदार 71 रनों की पारी खेली थी. मनीष पांडे ने अपनी इस पारी में 86 गेंदों का सामना करते हुए 4 चौके और 1 छक्के की मदद से 71 रनों की मैच जिताऊ पारी खेली थी. मनीष पांडे ने 2016 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी अपने टैलेंट का प्रदर्शन करते हुए अंतिम वनडे मैच में शानदार शतक जमाकर भारत को जीत दिलाई थी.