सरिता विशेष

भारतीय मुक्केबाज अखिल कुमार मिश्रा ने कोरिया के इंचियोन में होने वाले एशियाई खेलों की 10 सदस्यीय भारतीय पुरुष टीम में शानदार वापसी की है. बैंथमवेट 56 किलोग्राम भारवर्ग से लोकप्रियता हासिल करने वाले अखिल अब 19 सितंबर से 4 अक्तूबर तक होने वाले एशियाई खेलों में 60 किलोग्राम भारवर्ग में मैदान में उतरेंगे. 2008 के एआइबीए विश्व कप में कांस्य पदकधारी अखिल ने अपने चयन के बाद कहा, ‘‘किसी भी खेल में प्रैक्टिस बहुत जरूरी होती है. चोट लगने और पुलिस की ट्रेनिंग के चलते मैं मुक्केबाजी से दूर हो गया था. एक समय तो मेरा वजन भी बढ़ कर 75 किलोग्राम हो गया था. लेकिन परिवार और दोस्तों ने मेरा हौसला बनाए रखा. मेरी पत्नी और ससुर भी मुक्केबाज हैं. उन की भी मदद और अपने आत्मविश्वास के कारण मैं दोबारा रिंग में आया हूं.’’

वर्ष 2006 के राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदकधारी और वर्ष 2008 ओलिंपिक खेलों के क्वार्टरफाइनल में पहुंचने वाले इस मुक्केबाज को अपने कैरियर में लगातार चोटों से जूझना पड़ा जिस के कारण वे वर्ष 2012 में लंदन ओलिंपिक में भाग नहीं ले सके थे लेकिन उम्मीद है कि इस बार जब वे मैदान में उतरेंगे तो कुछ हलचल जरूर करेंगे.

इस के अलावा 49 किलोग्राम में एल देवेंद्र सिंह, 52 किलोग्राम में मदनलाल, 56 किलोग्राम में शिव थापा, 64 किलोग्राम में मनोज कुमार, 69 किलोग्राम में मनदीप जांगड़ा, 75 किलोग्राम में विकास कृष्ण, 81 किलोग्राम में कुलदीप सिंह, 91 किलोग्राम में अमृतप्रीत सिंह के अलावा 91 किलोग्राम से अधिक भारवर्ग में सतीश कुमार शामिल हैं. वहीं, महिला दल में 5 बार विश्व चैंपियनशिप जीतने वाली मैरी कौम 51 किलोग्राम भारवर्ग में, राष्ट्रमंडल की रजत पदक विजेता एल सरिता देवी 60 किलोग्राम भारवर्ग में और 75 किलोग्राम भारवर्ग में पूजा रानी मैदान में उतरेंगी.