एक निवेशक अपनी कमाई को कितनी बड़ी पूंजी में बदल पाएगा, यह इस बात पर निर्भर करता है कि वह उसे कैसे और कहां निवेश करता है. शेयर बाजार में पैसा लगाने वाले कई लोगों ने खूब कमाई की है, लेकिन बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो अपना सबकुछ खो बैठे हैं. अगर आप शेयर बाजार के जानकार नहीं है तो सीधे उसमें घुसना काफी जोखिम भरा हो सकता है.

यदि आप अपने बेहतर भविष्‍य के लिए पूंजी का निर्माण करना चाहते हैं तो विशेषज्ञों के सुझाए गए रास्‍ते को अपनाएं. यह रास्‍ता है म्यूचुअल फंड का. यहां हम आपको म्‍यूचुअल फंड के बारे में बता रहे हैं. हम आपको बता रहे हैं कि क्यों बैंक निवेश से बेहतर है म्यूचुअल फंड.

क्या है म्यूचुअल फंड

– म्‍यूचुअल फंड शेयर बाजार में निवेश करने का एक बढ़िया और कम जोखिम वाला विकल्प है

– इसमें फंड को अलग-अलग तरह के शेयरों में लगाया जाता है

– म्यूचुअल फंड के पैसे को अनुभवी और बाजार के जानकार लोगों द्वारा शेयर बाजार में निवेश किया जाता है.

बैंक में निवेश से बेहतर क्यों है म्यूचुअल फंड?

1. बैंक में पैसा सुरक्षित तो रहता है लेकिन लेकिन ब्याज दर 7 से 8 फीसदी ही मिलती है.

2. महंगाई दर भी 7 से 8 फीसदी सालाना के आसपास रहती है.

3. बैंक से मिलने वाला रिटर्न महंगाई के असर से बचाने में नाकाम.

4. बैंक में रखने से पैसे की खरीद की ताकत ज्‍यादा नहीं बढ़ पाती.

5. कम समय में ही पैसा वापस चाहिए तो बैंक में रखें.

6. लंबा निवेश करना है तो म्यूचुअल फंड अच्छा विकल्प, म्यूचुअल फंड के लिए धैर्य जरूरी.

7. उतना ही पैसा लगाएं, जिसे आप लंबे समय तक नियमित लगा पाएं.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं