सरिता विशेष

अगर आप को रसीली और गरम मिठाई खाने का शौक है तो आप के लिए गुलाबजामुन से बेहतर कोई दूसरी मिठाई नहीं हो सकती है. गुलाबजामुन पंजाबी स्वीट डिश मानी जाती है. चाशनी में डूबा गुलाबजामुन गरमगरम खाने में ही मजा देता है. कोई भी दावत गुलाबजामुन के बिना अधूरी मानी जाती है. अगर आप गरम और ठंडा स्वाद एकसाथ लेना चाहते हैं, तो गुलाबजामुन और वनीला आइसक्रीम को मिला कर खाया जा सकता है.

कैसे बनता है गुलाबजामुन

लखनऊ के गणेश स्वीटहाउस के मालिक मोहित गुप्ता ने बताया, ‘गुलाबजामुन बनाने के लिए खोया, मैदा, चीनी, बेकिंगपाउडर और इलायचीपाउडर का इस्तेमाल किया जाता है. सब से पहले खोए को कद्दूकस कर लें. उस में मैदा, बेकिंगपाउडर और इलायचीपाउडर मिलाएं. इस मिश्रण में थोड़ा कुनकुना दूध डालते हुए आटे की तरह गूंध लें. जब यह खूब चिकना हो जाए तो मनचाहे गोल या लंबे आकार में इसे लोइयों की तरह तैयार कर लें. यह ध्यान रखें कि लोई फटे नहीं. फटी लोई तलने पर उस में दरार बन जाती है. तैयार लोइयों को कपड़े से ढक कर रखें. ‘कड़ाही में जरूरत के मुताबिक तेल डाल कर तैयार लोइयों को तल लें. जब ये ब्राउन कलर की हो जाएं, तो इन को बाहर निकाल लें और साफ कागज पर रख दें. इस के बाद चीनी और पानी बराबर मात्रा में मिला कर चाशनी बनाएं. चाशनी में कुटी इलायची, गुलाबजल और केसर डालने के बाद तले गुलाबजामुन डालें. जब गुलाबजामुनों के अंदर तक रस घुल जाए, तो उन को निकाल कर गरमगरम खाएं व सभी को खिलाएं.’

लुभाता स्वाद

गोपालगंज बिहार की रहने वाली सुप्रिया पांडेय मुंबई में एक्टिंग की दुनिया में नाम कमा रही हैं. वे कहती हैं, ‘मुझे तो गुलाबजामुन वनीला आइक्रीम या फिर ठंडीठंडी मलाई के साथ खाने में मजा देता है. गुलाबजामुन का खयाल आते ही मेरे मुंह में पानी भर जाता है. इसे गरमगरम खाने का मजा अलग ही होता है. मुझे तो हर दावत गुलाबजामुन के बिना अधूरी लगती है.’ दिल्ली, मुंबई व कोलकाता जैसे बड़े शहरों में छोलेभटूरे या राजमाचावल के बाद गरमगरम गुलाबजामुन का स्वाद लेने वाले भी कम नहीं हैं. गुलाबजामुन 350 रुपए प्रति किलोग्राम से ले कर 500 रुपए प्रति किलोग्राम के हिसाब से छोटीबड़ी दुकानों में बिकता है. वैसे गुलाबजामुन पीस के हिसाब से भी मिलता है. 10 रुपए से 20 रुपए प्रति पीस की दर से गुलाबजामुन का स्वाद लिया जा सकता है. आजकल सड़क किनारे खाने की दुकानों के साथ छोटे आकार के गुलाब जामुन 10 रुपए में 2 पीस की दर से भी मिल जाते हैं. इस तरह हर हैसियत के लोग बिना किसी परेशानी के इस का जायका ले सकते हैं. गुलाबजामुन में भरपूर कैलोरी होती है, इसलिए इसे खाते वक्त अपनी सेहत का खयाल रखना जरूरी है.