सरिता विशेष

अगर आप को किसी पार्टी में जाना हो और पता चले कि वहां थीम ड्रैस टीशर्ट, शर्ट वगैरा के साथ सिर्फ लोअर गारमैंट्स ही पहनने हैं, तो सुन कर आप को अजीब लगेगा. ऐसे में या तो आप पार्टी में जाने का अपना इरादा ही बदल देंगे या फिर जाएंगे तो टीशर्ट के साथ पैंट वगैरा पहन कर. लेकिन जब आप वहां दूसरे लोगों को लोअर गारमैंट्स में देखेंगे तो खुद पर बहुत भन्नाएंगे कि क्यों आप ने शर्म के कारण थीम ड्रैस को फौलो नहीं किया. हो सकता है अगले ही पल आप अपना ट्राउजर उतार कर लोअर गारमैंट में पार्टी की मस्ती का लुत्फ उठाने लगें. यहां सिर्फ एक थीम पार्टी की ही बात नहीं की जा रही है, बल्कि ऐसा ही एक डे दुनिया के अधिकांश देशों में हर वर्ष मनाया जाता है, जिसे ‘नो पैंट डे’ के नाम से जाना जाता है. इस दिन लोग पैंट की जगह लोअर गारमैंट्स में पूरा दिन बिता कर खूब मस्ती करते हैं.

कैसे हुई शुरुआत

एक दिन औस्टिन की टैक्सास यूनिवर्सिटी के कैंपस में बैठेबैठे कालेज स्टूडैंट्स  दिमाग में खयाल आया कि क्यों न सैमेस्टर खत्म होने पर कुछ नया कर के धमाल मचाया जाए, तभी उन के दिमाग में यह मस्त आइडिया आया कि सैमेस्टर के खत्म होने पर सभी एक दिन ‘नो पैंट डे’ मनाएंगे यानी उस दिन कोई भी पैंट नहीं पहनेगा और सिर्फ लोअर गारमैंट में ही काम चलाया जाएगा, जिस से एक दिन हमें अलग ढंग से खुद को प्रदर्शित करने का मौका मिलेगा. शुरुआत में यह केवल एक देश तक ही सीमित रहा लेकिन धीरेधीरे इस मस्ती को देखते हुए, वर्ष 2000 तक दुनिया के अधिकांश देशों में यह डे मनाया जाने लगा. यह दिन मई के प्रथम शुक्रवार को मनाया जाता है.

कैसे मनाते हैं

इस दिन पैंट की छुट्टी होती है और लोग फुल रिलैक्स मूड में व कंफर्टेबल हो कर अपनी चड्डियों में सड़कों पर टहलते हैं. नंगी टांगों पर फ्रैश हवा पड़ने से मन रोमांचित हो उठता है. कोई घूरघूर कर भी नहीं देखता बल्कि खुली सोच के साथ सभी इस दिन को ऐंजौय करते हैं.

सोच नई, मस्ती डबल

नो पैंट डे को देख कर ही दुनियाभर में ‘नो पैंट्स सब वे राइड डे’ भी मनाया जाने लगा. इसे 2002 में पहली बार न्यूयार्क में मनाया गया, जिस में 7 लोगों ने हिस्सा लिया. फिर 2006 में 150 लोगों ने इस में हिस्सा ले कर इस के प्रति अपनी बढ़ती दिलचस्पी दिखाई. आज दुनियाभर में यह मशहूर हो गया है. जनवरी, 2016 में पहली बार मास्को में भी इस इवैंट का आयोजन किया गया. भारत में भी बेंगलुरु में पहली बार 12 जनवरी, 2014 को नो पैंट्स सब वे राइड डे मनाया गया. यह इवैंट सर्दियों में आयोजित किया जाता है इसलिए सभी विंटर कौट्स, टोपियां, स्कार्फ और ग्लव्स आदि पहने होते हैं, सिर्फ मिसिंग होती है तो पैंट.

क्यों लुभाता है यह दिन
फन के साथ स्टाइल का तड़का

जब दिन इतना हौट अंदाज में सैलिब्रेट किया जा रहा है तो फिर आप भी क्यों न इस दिन अपनी मस्त फिगर पर स्टाइलिश लोअर गारमैंट पहन कर सब की नजरों में चढ़ जाएं?

अब आप सोचेंगे कि लोअर गारमैंट्स में कैसा स्टाइल, तो आप को बता दें कि इस में ढेरों स्टाइल्स हैं जैसे आप कलरफुल अंडरवियर पहनने के साथसाथ एंब्रौयडरी, नैट, लैस, स्लोगन लिखे गारमैंट्स तो ट्राई कर ही सकते हैं साथ ही इन के ऊपर ऐक्सैसरीज का स्टाइल कैरी कर के खुद को ग्लैमरस लुक भी दे सकते हैं.

फुल कंफर्ट इन…

कंफर्ट की बात करें तो वह तो सिर्फ हमें अपने बैडरूम में ही मिल सकता है, जिस में जैसे चाहे कपड़े पहनो, कोई रोकनेटोकने वाला नहीं होता, लेकिन अगर वही कंफर्ट हमें बाहर भी मिल जाए तो कोई भी इस आजादी को मिस नहीं करना चाहेगा, क्योंकि लोअर हो या अपर गारमैंट्स में घूमना हमें फुल कंफर्ट जो देता है.

नो वल्गैरिटी, फील जबरदस्त

फन के लिए मनाए जाने वाले इस दिन में वल्गैरिटी न के बराबर होती है, क्योंकि हम इस में खुद को बिलकुल न्यूड नहीं रखते बल्कि टीशर्ट वगैरा के साथ लोअर गारमैंट्स में होते हैं, जिसे अगर देखा जाए तो बिलकुल शौर्ट्स की ही तरह होता है. दोनों के साइज में बहुत कम फर्क होता है. लेकिन कंफर्टेबल इतना कि आप का पूरा दिन कैसे बीत गया पता ही नहीं चलेगा. स्पेस का टैंशन नहीं देशविदेश में जब भी कभी कोई आयोजन या फैस्टिवल सैलिब्रेट होता है जैसे बुल फाइट डे, टमाटर फैस्टिवल डे तो उस के लिए स्पेस की जरूरत होने के साथसाथ सारा अरेंजमैंट करने के लिए भारी पूंजी भी लगानी पड़ती है. लेकिन इस में ऐसा कुछ नहीं है, क्योंकि यह दिन किसी खास जगह पर सैलिबे्रट नहीं किया जाता बल्कि इस में हम खुद को रिलैक्स करने के लिए सिर्फ अपनी पैंट उतारते हैं.

ऐंजौयमैंट की करें पूरी तैयारी

फन में जैंडर नहीं बाधा

युवतियां अकसर ऐसा सोचती हैं कि अगर हम लोअर गारमैंट्स पहनने के इस रूल को फौलो करेंगी तो देखने वाले हमें क्या कहेंगे, कैसी नजरों से देखेंगे. तो आप को बता दें कि ऐसा आप अकेली नहीं बल्कि इस दिन को सैलिबे्रट करने की इच्छा रखने वाली हर युवती करेगी. बस, ध्यान रखें, ऐसे कपड़े पहन कर खुद को सेफ रखें, ज्यादा शोऔफ न करें और न ही किसी को खुद को छूने की आजादी दें.

वैक्सिंग कराना न भूलें

बौडी साफसुथरी लगेगी तो आप का कौन्फिडैंस खुद ब खुद बढ़ जाएगा और आप को लोअर गारमैंट पहनने में भी डबल मजा आएगा. लेकिन युवतियां इस दिन को खुल कर जीने से पहले टांगों की वैक्सिंग कराना न भूलें ताकि खुद को अच्छा लगने के साथसाथ औरों को भी आप को देख कर अच्छा लगे.

सोच गलत न रखें

भले ही आप छोटे कपड़े पहनें या फिर अंडर गारमैंट्स में घूमें, लेकिन इन छोटे कपड़ों के साथ अपनी सोच छोटी न रखें. किसी को भी गंदी नजर से न देखें और न ही इस दौरान जानबूझ कर किसी को टच करने की कोशिश करें बल्कि हैल्दी सोच व हैल्दी ऐन्वायरन्मैंट क्रिऐट कर के इस दिन को जीए