दोस्तों के साथ मस्ती करना और लंच डिनर पर जाना भला किसे नहीं भाता, लेकिन यह शौक कई बार काफी महंगा साबित होता है, जिस से परेशानी तो होती ही है. क्यों न इस बार कुछ ऐसा करें कि दोस्तों के साथ लंच भी हो जाए और जेब पर कोई भार भी न पड़े, अगर अपने घर पर ही लंच प्लान किया जाए तो यह काफी फायदेमंद तो होगा ही साथ ही ऐंजौयमैंट भी कहीं ज्यादा होगा. आइए जानें कैसे.

सभी पोषक तत्त्व मिलते हैं

अगर आप बाहर एक पावभाजी भी खाने जाते हैं तो वह उसे बनाने में कई बार कई दिन पुरानी सब्जियां भी इस्तेमाल में ले लेते हैं, क्योंकि सब्जियों के मैश होने के बाद उन का पता नहीं चलता, वहीं अगर आप इसे घर पर बनाएं तो आप अच्छी क्वालिटी की मौसमी सब्जियों का ही इस्तेमाल करेंगे.

इस के अलावा उन्हें आप इस तरह पकाते हैं कि उन के सभी पोषक तत्त्व आप को मिलें, क्योंकि आप को उन्हें कम मात्रा में बनाना है और बनाने की इतनी जल्दी भी नहीं होती.

आप उन्हें अपने हिसाब से बनाते हैं लेकिन बाहर एकसाथ बहुत अधिक मात्रा में खाना बनता है इसलिए क्वालिटी के साथ समझौता हो ही जाता है. साथ ही घर में अच्छी और पौष्टिक सब्जियों का उपयोग किया जाता है. अच्छे घीतेल का प्रयोग किया जाता है.

आप की कुकिंग स्किल निखरती है

अगर आप को खाना बनाने का शौक है और किसी को पूरा खाना बना कर खिलाने का मौका कम ही मिलता है तो अपना यह शौक पूरा कर सकती हैं. जो भी डिश आप को अच्छी बनानी आती है या फिर जिसे ट्राई करने का मन था वह अब ट्राई करें. आप के द्वारा बनाए गए अच्छे खाने को खा कर सिर्फ आप के दोस्त ही नहीं बल्कि आप के परिवार वाले भी हैरान रह जाएंगे और आप का यह लंच उन के लिए भी किसी सरप्राइज से कम नहीं होगा.

ऐंजौयमैंट ज्यादा होता है

बाहर के मुकाबले घर में ऐंजौयमैंट ज्यादा होता है, क्योंकि बाहर तो आप को खाना खाते ही रैस्टोरैंट से उठ कर जाना पड़ता है, लेकिन घर में काफी अच्छा वक्त गुजारा जा सकता है और अपनी पसंद के तरहतरह के गेम्स खेल सकते हैं, जीतने वाले को छोटामोटा गिफ्ट भी दिया जा सकता है, घर में साथ में मूवी देख कर भी टाइम स्पैंड किया जा सकता है.

वैराइटी ज्यादा मिलती है

बाजार में आप 2-3 वैराइटी ही ले सकते हैं लेकिन घर पर कई तरह की वैराइटी कम कीमत में बनाई जा सकती है. आप चाहें तो मिक्स ऐंड मैच कर के भी ले सकते हैं जैसे कि बर्गर या पिज्जा के साथ छोलेभटूरे आदि भी रख सकते हैं. साथ में एक चायनीज डिश जैसे चाउमीन आदि भी रख सकते हैं. इस से सब को अपनी पसंद की वैराइटी मिल जाएगी.

कई लोगों की मदद मिलती है

अगर लंच पर कुछ लोग आ रहे हैं तो आप मेड की मदद भी ले सकती हैं और लंच वाले दिन से पहले ही सब्जी आदि काट कर, टमाटर ग्रेवी बना कर रख सकती हैं, मां की मदद भी खाना बनाने में ले सकती हैं, जो काम उन्हें पसंद है वह उन्हें और भाईबहनों को बताया जा सकता है, जैसे टेबल मैनेज करना, ड्राइंगरूम सही करना आदि. चाहें तो यह लंच पूल कर के भी कर सकते हैं, जिस में आने वाले मेहमान भी एकएक डिश बना कर लाएं और सब मिल कर साथ खाएं.

इंग्रीडिऐंट्स का पता होता है

कई बार कुछ लोगों को किसी खास चीज से एलर्जी होती है और उसे खाने पर उन की तबीयत बिगड़ने लगती है, उन के लिए वह खाना अच्छा नहीं रहता. बाहर के खाने में आप पता नहीं कर सकते कि किस खाने में क्या है, लेकिन घर में खाना बन रहा है तो दोस्त की पसंदनापसंद को ध्यान में रखा जा सकता है जैसे कि अगर किसी दोस्त को अदरक से एलर्जी है, तो अदरक न डाली जाए या फिर एक बाउल सब्जी निकाल कर दोबारा बना ली जाए. इस के अलावा जैसे अगर किसी दोस्त को शुगर है और आप टमाटो सूप बना रहे हैं तो उस का एक बाउल सूप अलग निकाल कर फिर चीनी मिक्स करें.

सफाई से बनता है

अगर घर पर खाना बना रहे हैं तो उसे बनाने में साफसफाई का भी पूरा ध्यान रखा जाता है. सब्जियों को अच्छी तरह धोया जाता है, आटे को छाना जाता है और पूरी सफाई के साथ खाना बनाया जाता है, लेकिन बाहर के खाने में साफसफाई का कितना ध्यान रखा जाता है इस बारे में आप पूरी तरह से श्योर नहीं हो सकते.

नई रैसिपी भी ट्राई कर सकती हैं

लंच में आप चाहें तो एक नई रैसिपी भी ट्राई कर सकती हैं. फिर चाहे वह रैसिपी कोई छोटा सा स्नैक्स ही क्यों न हो. इस से आप को खुद पर कौन्फिडैंस आएगा कि आप भी कुछ अच्छा बना सकते हैं. जैसे कि पनीर कुल्चा बना सकते हैं इस में आप को कुछ नहीं करना, बस, पनीर मैश कर मसाला मिलाना है और 2 कुलचों के बीच पनीर लगा कर सेंक लें. यह खाने में पिज्जा जैसा लगता है और बनाने में सैंडविच बनाने जितना आसान है. इस तरह आप ने नई डिश भी ट्राई कर ली.

सस्ता भी पड़ता है

अगर आप बाहर खाने जा रहे हैं, तो खाने की कीमत वैसे तो रैस्टोरैंट के स्टैंडर्ड के हिसाब से होती है, लेकिन फिर भी किसी रैस्टोरैंट में कीमत कितनी भी कम क्यों न हो वहां खाना घर के खाने से कई गुना महंगा ही पड़ेगा. एक दाल की कीमत ही 200 रुपए तक होती है. ऐसे में आप अगर रायता, सलाद, पापड़ आदि मांगने लगें तो हर चीज की कीमत देनी पड़ती है, जोकि घर में काफी सस्ता पड़ता है.            

इन बातों का रखें ध्यान

–       उतने ही लोगों को बुलाएं जितने लोगों का अरेंजमैंट आप सही से कर पाएं.

–       खाने के साथसाथ कुछ गेम्स आदि भी रखें, ताकि बाहर जैसा ऐंजौयमैंट मिल सके.

–       अगर आप को लगे कि किसी हैल्पिंग हैंड की जरूरत है, तो पहले ही अपनी मेड या अन्य किसी से बात कर के रखें.

–       जो काम पहले दिन किए जा सकते हैं उन्हें पहले दिन कर लें जैसे आप अगर अपने दोस्तों को पिज्जा पार्टी दे रहे हैं तो पिज्जा के लिए सभी सब्जियां आदि पहले ही दिन चाप कर के रख लें, बाजार से कोल्डड्रिंक, चीज, चिप्स आदि जो भी सामान लाना है, पहले ही दिन ले आएं.

–       अगर लोग ज्यादा हैं तो बैठने का इंतजाम कैसे और कहां करना है, यह भी पहले ही सोच लें. जैसे कि अगर जगह कम है तो ड्राइंगरूम का सोफा आदि दीवारों के किनारे लगा दें और बीच में डाइगिंन टेबल की कुरसियां आदि डाल दें.

–       डाइनिंग टेबल को भी सही से पहले से ही सैट कर दें. वैसे अच्छा तो यही रहेगा कि आप वहां से बुफे सिस्टम लगा दें. सभी लोग वहां से प्लेट लगा कर अपनीअपनी जगह पर बैठ कर खाना खा लें. इस से आप का भी एकएक को परोसने का काम बचेगा, जिस को जो चाहिए खुद टेबल पर से ले लेगा. 

—————-