सरिता विशेष

अमेरिका में अब जो भी बिलकुल गोरा या बिलकुल काला नहीं है, हर समय उस के सिर पर खौफ है कि न जाने कब कौन सा पुलिस वाला उसे पकड़ ले और उस से अपनी पहचान बताने की जिद करे. सैकड़ों लोगों को बिना प्रमाण के अमेरिका में आ बसने के अपराध पर जेलों में ठूंस दिया गया है. नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपना चुनावी वादा पूरा कर रहे हैं कि वे सारी नौकरियां अमेरिकियों के लिए रखेंगे.

अमेरिका अब तक दुनियाभर का ड्रीम डैस्टिनेशन रहा है. वहां पहुंच जाओ तो बेड़ा पार समझो. लोग न जाने किनकिन तरह से बौर्डरों पर बनी बाधाओं को पार कर अमेरिका में घुसे हैं. अब राजनीतिक सत्ता की पलट के चलते वे अपना घर, पत्नी, पति, बच्चे छोड़ कर जाने को मजबूर किए जा रहे हैं. यह अमानवीय आतंक बंदूकों के आतंक की तरह है और हिटलरी अंदाज वाला है. जिन्होंने ट्रंप को वोट दिया था उन में से भी अधिकांश भौचक्के हैं कि चुनावी जुमलों को अमली जामा बिना तैयारी के पहना दिया जा रहा है.