2016 के आखिरी कुछ दिन. पर इस भारतीय रेल ने अपने यात्रियों के लिए कई अहम फैसले लिए. रेलवे ने साल 2016 में कई बड़े फैसले लिए. इन में से कई फैसलों से आप सीधे प्रभावित होंगे. रेल मंत्रालय द्वारा इस साल कई नए नियम बनाए गए और कई पुराने नियमों में संशोधन किए गए. हम आपको बताने जा रहे हैं रेलवे द्वारा लिए गए कुछ ऐतिहासिक फैसलों के बारे में.

खत्म हो गया रेल बजट

यह रेल मंत्रालय का ऐतिहासिक फैसला था. आजादी के पहले से चली आ रही रेल बजट को इस साल आम बजट में ही सम्मिलत कर दिया गया. 2017 में आने वाले यूनियन बजट के साथ रेल बजट भी पेश किया जाएगा.

टिकट में छूट के लिए आधार कार्ड जरूरी

वरिष्ट नागरिकों को रेलवे किरायों में छूट पाने के लिए, आधार कार्ड उपलब्ध करवाना अनिवार्य हो जाएगा. यह काउंटर टिकट लेने और ई-टिकट दोनों पर लागू होगा. यह नियम 1 अप्रैल 2017 से लागू किया जाएगा.

ट्रेनों में बढ़ेंगी आरएसी सीटें

रेलवे ने अहम फैसले का ऐलान करते हुए कहा कि सभी ट्रेनों में आरएसी सीटें बढ़ाईं जाएंगी. आरएसी सीट पर दो लोग बैठकर यात्रा करते हैं. रेलवे का ये मानना है कि कि ज्यादा से ज्यादा यात्रियों को ट्रेन यात्रा करने का मौका मिले इसलिए यह फैसला लिया गया है. यह योजना 17 जनवरी 2017 से लागू होगी.

महज 92 पैसे में 10 लाख का बीमा

अगर आपने ई-टिकट बुक करवाया है तो आपको बस 92 पैसे के प्रीमियम पर 10 लाख रुपये तक का यात्रा बीमा कवर मिलेगा. यह वैक्लिप है, और आप चाहें तो इसे नहीं भी ले सकते हैं.

ट्रांसजेंडर को मिला 'तीसरे लिंग' का दर्जा

रेलवे और आईआरसीटीसी ने टिकट आरक्षण और टिकट रद्द कराने वाले फॉर्म में महिला एवं पुरुष के साथ-साथ 'ट्रांसजेंडर को तीसरे लिंग' के तौर पर शामिल कर लिया है.

एसएमएस के जरिए टिकट बुकिंग संभव

अब से एसएमएस के जरिए भी टिकट बुकिंग संभव हो गई है. 139 पर सारे डिटेल्स भेजने पर आप इस सुविधा का लुत्फ उठा सकते हैं. मोबाईल से भुगतान भी संभव कर दिया गया है.

काउंटर टिकट का ऑनलाइन कैंसल संभव

रेलवे ने इसी साल यात्रियों को एक बहुत बड़ी राहत दी. कस्टमर को पहले काउंटर टिकट का कैंसिलेशन के लिए काउंटर पर ही जाना होता था लेकिन अब आप आईआरसीटीसी की साइट पर काउंटर टिकट भी ऑनलाइन कैंसल कर सकते हैं.

अब चलती ट्रेन में भी टिकट पाना संभव

रेलवे ने यात्रियों को चलती ट्रेन में टिकट देने की सुविधा की शुरु की है. यह सुविधा अभी कुछ सुपर फास्ट ट्रेन में ही उपलब्ध है. इसके तहत टीटीई को टिकट वेंडिंग मशीन दी जाएगी.

ई-वॉलेट से टिकट के लिए भुगतान करने की सुविधा

इसी साल आईआरसीटीसी ने ई-वॉलेट से टिकट भुगतान की सुविधा भी शुरु की है. बैंक से या कार्ड से पेमेंट करने में थोड़ा समय लगता है इसके लिए तत्काल टिकट बुकिंग करवाने वालों को समय पर पेमेंट नहीं होने पर कन्फर्म टिकट नहीं मिलता. ई-वॉलेट से तेजी से पेमेंट किया जा सकता है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं