सुंदरता, बोल्डनैस और विचारों की ताकत का अपने देश का रिप्रैजैंटेशन है, ‘मिस इंटरनैशनल ब्यूटी कौंटैस्ट.’ जिस में विभिन्न देशों की सुंदरियां भाग लेती हैं. ये बालाएं दुनिया की अच्छीखासी जानकारी रखती हैं. सब के बीच रह कर न सिर्फ ये अपनी सुंदरता के बल पर मैजिक चलाने की कोशिश करती हैं बल्कि एक मंच पर विभिन्न देशों के लोगों के बीच प्यार और शांति का ऐसा संदेश देती हैं कि देखने वाले इन के कायल हुए बिना नहीं रह पाते.

कब हुआ पहला आयोजन

सब से पहले यह कौंटैस्ट 1960 में संयुक्त राज्य अमेरिका के कैलिफोर्निया शहर में आयोजित हुआ, जिसे खूब पसंद किया गया. इसी कारण यह सालों तक वहीं होता रहा. इस के प्रति लोगों की बढ़ती दीवानगी को देखते हुए 1968-70 में जापान में इस का आयोजन किया गया. फिर 2004 से प्रतिवर्ष यह प्रतियोगिता चीन या जापान में ही होने लगी.

मिस इंटरनैशनल 2016

56वां मिस इंटरनैशनल 2016 टोक्यो, जापान में 27 अक्तूबर, 2016 को इंटरनैशनल कल्चरर एसोसिएशन द्वारा आयोजित किया गया, जिस में दुनिया भर की 70 सुंदरियों ने भाग लिया.

इस में फिलीपींस की कैयलि वैरजोसा ने मिस इंटरनैशनल 2016 के ताज पर अपना कब्जा किया. उन्होंने अपने देश के लिए छठा ताज जीतने के लिए जीतोड़ मेहनत की. कैयलि को यह ताज 2015 की मिस इंटरनैशनल विजेता वैनेजुएला की एडमर मार्टींज ने पहनाया.

विजेता का चुनाव

कौंटैस्ट की शुरुआत राष्ट्रीय कौस्ट्यूम्स का प्रदर्शन करने के साथ हुई, जिस में प्रतिभागी अपने देश की संस्कृति के आधार पर बनाए गए फैशनेबल परिधानों को प्रदर्शित करने में सक्षम दिखे. इस आधार पर 15 सेमीफाइलिस्ट चुने गए. फिर उन्होंने अपने स्किल्स को दर्शाने के साथसाथ स्विमसूट कंपीटिशन के दौरान स्टेज पर अपना जलवा बिखेरा.       

इस के बाद एक राउंड ऐसा भी हुआ जिस में सभी प्रतिभागियों ने अपने देश के फैशन डिजाइनर द्वारा बनाए गए गाउंस में प्रैजैंटेशन दी और फिर औडियंस के सामने अपनी बुलंद आवाज में यह बताने की कोशिश की कि क्यों उन्हें ही मिस इंटरनैशनल 2016 का खिताब दिया जाए. इन्हीं सब के आधार पर विजेता घोषित किया गया.

कहने का तात्पर्य यह है कि इस में वही विनर बनता है जिस में अच्छा सैंस औफ ह्यूमर होने के साथसाथ बेहतर प्रैजैंटेशन देने की भी क्षमता हो. बोल्ड तो हो ही, साथ ही उस के चेहरे से कौन्फिडैंस भी झलके. विषम परिस्थिति में भी उस के चेहरे पर स्माइल हो यानी इस में ब्यूटी, टैलेंट, इनर व आउटर पर्सनैलिटी, कौस्ट्यूम्स, मौडलिंग आदि के आधार पर विनर घोषित किया जाता है.

शान बढ़ाने में ये भी नहीं रहीं पीछे

इस प्रतियोगिता में फिलीपींस की कैयलि वैरजोसा के नाम जहां मुख्य ताज रहा, वहीं फर्स्ट रनरअप मिस आस्ट्रेलिया अलैक्जेंडर ब्रिटन, सैकंड रनरअप और मिस बैस्ट ड्रैसर मिस इंडोनेशिया फैलिसिया ह्वैंग, थर्ड रनरअप और मिस नैशनल कौस्ट्यूम्स 2016 मिस निकारागुआ ब्रिन्नी चैपोरो व फोर्थ रनरअप बनीं मिस यूएसए कैटरेना लिंबैय.

मिस इंटरनैशनल एशिया 2016 का खिताब केलि यूक लाम चान, हौंगकौंग को, मिस इंटरनैशनल यूरोप 2016 मिलिसा शेरपेन, नीदरलैंड्स को, मिस इंटरनैशनल अमेरिका 2016 इवाना आबाद, इक्वाडोर को, मिस इंटरनैशनल अफ्रीका 2016 मैसेरे जैल्डा स्वैरि, सीरिया लिओन को, मिस इंटरनैशनल ओश्यिलिन 2016 गुनेवेरा डावेनपोर्ट, हवाई को व मिस परफैक्ट बौडी 2016 अलिना किरचियू, मालदोव को मिला.

इंटरनैशनल ब्यूटी कौंटैस्ट जीतने वाली 10 भारतीय सुंदरियां

निकोल फारिया

निकोल फारिया जो इंडियन सुपरमौडल और ऐक्ट्रैस हैं, पहली भारतीय युवती हैं जिन्होंने मिस अर्थ पेजैंट का खिताब जीता. यहां तक कि उन्होंने मुंबई में आयोजित पैंटालूंस फेमिना मिस इंडिया 2010 ब्यूटी कौंटैस्ट में मिस इंडिया अर्थ टाइटल भी अपने नाम किया.

दिया मिर्जा

अभिनेत्री दिया मिर्जा फेमिना मिस इंडिया, 2000 की सैकंड रनरअप होने के साथसाथ फिलीपींस में मिस एशिया पैसिफिक जीतने के साथ पहली भारतीय कंटैस्टैंट बनीं, जिन्होंने 27 साल की उम्र में यह खिताब जीता. इसी वर्ष उन्होंने मिस यूनिवर्स का खिताब जीत कर देश का नाम रोशन किया.

प्रियंका चोपड़ा

बौलीवुड की शान व जान प्रियंका चोपड़ा ने मिस वर्ल्ड का ताज भारत के नाम किया. अमेरिका में वे फेमिना मिस इंडिया प्रतियोगिता की दूसरी विजेता भी रहीं.

लारा दत्ता

ब्यूटी क्वीन, ऐक्ट्रैस व मौडल लारा दत्ता 2000 में मिस यूनिवर्स का खिताब जीतने वाली सुष्मिता सेन के बाद दूसरी भारतीय युवती बनीं.

युक्ता मुखी

लंदन के ओलिंपिक थिएटर में दिसंबर, 1999 में युक्ता मुखी ने मिस वर्ल्ड का ताज जीता.

डायना हेडन

मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता का खिताब जीतने वाली डायना हेडन तीसरी भारतीय तो बनी हीं साथ ही उन्होंने 1997 में फेमिना मिस इंडिया वर्ल्ड क्राउन भी अपने नाम किया.

ऐश्वर्या राय

मिस इंडिया प्रतियोगिता की फर्स्ट रनरअप होने के साथ ही ऐश्वर्या राय ने वर्ष 1994 में मिस वर्ल्ड पेजैंट का ताज भी जीता.

सुष्मिता सेन

सुष्मिता सेन ‘मिस यूनिवर्स’ का खिताब जीतने वाली पहली भारतीय युवती बनीं.

जीनत अमान

 70 और 80 के दशक में हिंदी फिल्मों में जान डालने वाली अभिनेत्री जीनत अमान मिस एशिया पैसिफिक का ताज पहनने वाली पहली भारतीय युवती बनीं.

रीता फारिया

रीता फारिया मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने वाली पहली भारतीय और एशियाई मूल की युवती हैं. यह कहना गलत नहीं होगा कि भारतीय युवतियों ने देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी अपनी सुंदरता का परचम लहराया है.

आप को बता दें कि इंटरनैशनल कल्चरर ऐसोसिएशन, जो इस कौंटैस्ट को आयोजित करती है, की शुरुआत 1984 में हुई, जिस का उद्देश्य विभिन्न देशों से आईं विभिन्न जातियों और भाषाओं की सुंदरियों द्वारा प्रेम और शांतिपूर्ण जीवन व्यतीत करने का संदेश देना है.