गरमी का मौसम आते ही त्वचा में नमी की मात्रा कम होने लगती है. इस की वजह धूप, धूल, गरम हवा, प्रदूषण और पसीना आना है. त्वचा में नमी की मात्रा कम हो जाने से वह बेजान और रूखी हो जाती है. ऐसे में सही मात्रा में पानी पीना, संतुलित आहार लेना, सनस्क्रीन से खुद को प्रोटैक्ट करना, धूप से बचना आदि जरूरी है.

ब्यूटी ऐक्सपर्ट आकृति कोचर कहती हैं कि गरमी के मौसम में त्वचा की नमी का ध्यान रखना जरूरी है वरना कई प्रकार के रैशेज, रैडनैस, ऐलर्जी आदि होने का खतरा रहता है. ऐसे में सनस्क्रीन और मौइश्चराइजर अच्छी कंपनी का ही लगाएं ताकि त्वचा सुरक्षित रहे. इन्हें घर से निकलने से 20 मिनट पहले लगाएं. कम से कम 15 एसपीएफ वाला सनस्क्रीन त्वचा के लिए अच्छा होता है.

अगर आप ने सही मात्रा वाले एसपीएफ का प्रयोग त्वचा के लिए नहीं किया, तो त्वचा की उम्र आप की उम्र से अधिक दिखेगी, इसलिए ऐक्सपर्ट की राय जरूरी है.

गरमी के मौसम में सैलिब्रिटीज खासतौर पर अपनी त्वचा को ले कर संवेदनशील होते हैं, क्योंकि उन्हें धूप, धूल, प्रदूषण आदि में शूटिंग करनी पड़ती है. आइए, जानें किस तरह वे गरमी का सामना करते हैं:

श्रद्धा कपूर: वीट की ब्रैंड ऐंबैसेडर अभिनेत्री श्रद्धा कपूर कहती हैं, ‘‘गरमी के मौसम में मैं बहुत ही साधारण दिनचर्या फौलो करती हूं ताकि मेरी त्वचा की खूबसूरती बनी रहे. मैं खूब पानी पीती हूं. इस के अलावा फल और सब्जियां मेरी डाइट में शामिल होती हैं. मैं अपने चेहरे को कई बार साफ पानी से धोती हूं ताकि प्रदूषण, धूलमिट्टी से बची रहूं.

‘‘मैं सनप्रोटैक्शन क्रीम लगाए बिना घर से नहीं निकलती हूं. ये सारी बातें मैं ने अपनी मां से सीखी हैं. शूटिंग के दौरान भी मैं इन बातों का खयाल रखती हूं. इस मौसम में मैं मेकअप कम करती हूं.’’

करीना कपूर खान: करीना की तरह खूबसूरत त्वचा हर लड़की चाहती है. अपनी स्किन त्वचा का श्रेय वे अपने मातापिता को देती हैं, जो उन्हें जन्म से मिली है. वे हमेशा अपनी स्किन को नमीयुक्त रखती हैं. गरमी के मौसम में वे खूब पानी, सूप, जूस आदि पीती हैं ताकि त्वचा डीहाइड्रेट न हो.

करीना कहती हैं, ‘‘मैं पंजाबी परिवार से हूं जहां खाना सब कुछ होता है. मैं भी खूब खाती हूं. पंजाब में जाने पर मैं वहां के अमृतसरी कुलचे अवश्य खाती हूं. अब मेरी जीरो फिगर में रुचि नहीं और न ही मेरी स्विमसूट पहनने की इच्छा है. यह सब मैं ने फिल्म ‘टशन’ के दौरान कर किया था. अब मैं खूब खा रही हूं और खुश रहती हूं. लेकिन वर्कआउट अवश्य करती हूं ताकि फिट रहूं. मैं मेकअप अधिक नहीं करती. धूप में निकलने पर सनस्क्रीन अवश्य लगाती हूं. रात को सोते समय मौइश्चराइजर लगाती हूं. खाने में मौसमी फल, सब्जियां अवश्य लेती हूं. इन के अलावा मैं हमेशा साधारण रहना पसंद करती हूं. घर से निकलते वक्त आंखों के मेकअप के लिए काजल और मौइश्चराइजर अपने पर्स में रखती हूं.’’

नरगिस फाखरी: त्वचा को चिकना और ग्लोइंग बनाए रखने के लिए नरगिस क्लींजिंग, फेशियल, स्क्रब, मास्क आदि का प्रयोग करती हैं. जब वे बाहर शूट करती हैं, तो वालनट स्क्रब के द्वारा मेकअप को हटाती हैं. इस से मेकअप रोमछिद्रों से बाहर निकल जाता है, साथ ही इस से चेहरे का रक्तसंचार भी बढ़ता है. वे रात में सोते समय मौइश्चराइजर लगाती हैं.

नरगिस कहती हैं, ‘‘मैं उसी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करती हूं, जो मुझ पर सूट करता है. मुझे अधिक मेकअप का शौक नहीं. धूप में अधिक नहीं जाती, संतुलित आहार लेती हूं. भारत में मैं मदर नेचर के पास हूं, जहां हर तरह की सब्जियां और फल आप के आसपास ताजा मिलते हैं. इन्हें खा कर और लगा कर मैं अपनी त्वचा को सुंदर रख सकती हूं. मुंबई में बाहर वाक या जौगिंग करना संभव नहीं, इसलिए घर पर डीवीडी लगा कर जुंबा वर्कआउट करती हूं. बालों के लिए हौट औयल मसाज अवश्य कराती हूं. अधिक शुगर नहीं लेती. भरपूर नींद लेती हूं.’’

दीपिका पादुकोण: दीपिका गरमी के मौसम में अपनी त्वचा का खास ध्यान रखती हैं. दीपिका कहती हैं, ‘‘रात में जो भी मेकअप मेरे चेहरे पर होता है, उसे मैं निकाल कर हाइड्रेटिंग क्रीम लगाती हूं. इस के अलावा खूब पानी पीती हूं. संतुलित आहार लेती हूं. नियमित वर्कआउट करती हूं और नींद पूरी करती हूं. इस मौसम में गरम और सूखी हवा से बाल बेजान से हो जाते हैं. ऐसे में सप्ताह में 1 बार टैंडर कोकोनट औयल से मसाज कराने से बाल खराब होने से बचते हैं.

‘‘मैं मेकअप अधिक पसंद नहीं करती. पर बीबी क्रीम अवश्य लगाती हूं. मुझे लाल लिपस्टिक बहुत पसंद है, जिसे लाइनर के साथ लगाती हूं.’’

COMMENT