अभी तक तो युवाओं के ही सिर चढ़ कर बोलता था टैटू का क्रेज लेकिन अब तो 104 साल के वृद्ध में भी इस के प्रति दीवानगी देखी गई तभी तो उन्होंने अपने 104वें जन्मदिन पर टैटू बनवा कर दुनिया के सामने एक अलग उदाहरण पेश किया. इस शख्स का नाम है जो जैक, जो ब्रिटेन का निवासी है. उन्होंने अपनी दाईं बांह पर कोई डिजाइन नहीं बनवाया बल्कि ‘जैको 6.4.1912’ गुदवाया है, जो उन के उपनाम और जन्मतिथि का मिश्रण है.

उन के इस कारनामे को देख कर दुनिया भी उन्हें सलाम करती है तभी तो उन का नाम गिनीज बुक औफ वर्ल्ड रिकौर्ड्स में दर्ज किया गया है. जिस उम्र में लोग हिम्मत हार जाते हैं उस उम्र में अगर कोई ऐसा करने के बारे में सोचता है तो वाकई काबिलेतारीफ है.

टैटू गुदवाने के बारे में सोचते वक्त उन के मन में जरा भी डर नहीं था जबकि वे इस बात को भलीभांति जानते थे कि इस उम्र में स्किन में सुई गुदवाने से ज्यादा कष्ट होगा लेकिन हिम्मत हारना जो जैसे उन्होंने सीखा ही नहीं है और इस के लिए वे कोई भी कीमत चुकाने के लिए तैयार थे. उन की यही हिम्मत टैटू गुदवाने के समय देखी भी गई.

उन की बेटी जैनी भी अपने पिता के बारे में यही कहती हैं कि मेरे पिता बहुत ही जिंदादिल इंसान हैं. वे अपनी जिंदगी में आने वाली हर चुनौती को खुशीखुशी ऐक्सैप्ट करते हैं और उसे पूरा कर के भी दिखाते हैं.

उन की लंबी उम्र का राज यही है कि वे हर मुश्किल सिचुऐशन में भी खुश रहना पसंद करते हैं और हार्डवर्क करने में विश्वास रखते हैं. हर कोई व्यक्ति उन का दोस्त, उन के साथ वक्त बिताना पसंद करता है ताकि उन में भी वो हिम्मत आ सके.