सुशासन ब्रैंड नीतीश कुमार के कार्यकाल में ऐसा दूसरी बार हुआ कि बोर्ड की परीक्षा में जिस ने टौप किया वह फिसड्डी निकला. इस का यह मतलब नहीं कि किसी गणेश कुमार का कला संकाय से टौप कर जाना कोई करिश्माई बात थी, बल्कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मानें तो चूंकि बिहार में नकल पर कड़ाई की जा रही है, इसलिए ऐसा हुआ.

बात सिरे से ही समझ के बाहर है कि नकल रोकने से इस का क्या ताल्लुक और दूसरे, बिहार में ही टौपर विशेषज्ञ क्यों हैं. एक उदाहरण दूसरे राज्य का नीतीश ने गिनाया पर वह बेमेल था. अब सीधेसीधे तो वे मानने से रहे कि बिहार में भ्रष्टाचार फिर पैर पसार रहा है जिस पर इस दफा उन का जोर नहीं चल रहा.