कृष्ण को सीधेसीधे दलाल कहते तो कई विवादों से घिर जाते, इसलिए अमर सिंह ने पहले यह कहा कि आप चाहें तो मुझे दलाल या बिचौलिया कह सकते हैं, हालांकि मैं कृष्ण के पांवों की धूल भी नहीं, पर वे भी मध्यस्थ थे. कृष्ण का महाभारत में रियल रोल उजागर करने वाले अमर सिंह की हाल ही में सपा में वापसी हुई है और मुलायम सिंह ने उन्हें सम्मान देने के साथ राज्यसभा भेज दिया है.

द्वापर युग में क्षत्रियों ने एक यादव का सहारा लिया था, कलियुग में यादव क्षत्रिय का दामन थाम रहे हैं यानी गंगा उलटी बह रही है. कृष्ण ने पांडव और कौरवों के बीच कलह पैदा की थी तो अमर सिंह यादव कुनबे में कलह की वजह बने हुए हैं. कृष्ण को, एक तरह से खुद की तरह, सत्ता का दलाल कहने की हिम्मत पर बधाई के पात्र तो वे हैं जो एक चैनल को दिए इंटरव्यू में मायावती को अखिलेश यादव की बूआ भी बता गए.

 

COMMENT