सरिता विशेष

दिग्गज कांग्रेसी दिग्विजय सिंह वाकई समझदार व्यक्ति हैं जो पार्टी से निकाले जाने के पहले खुद ही अभिजात्य तरीके से निकल रहे हैं. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की तर्ज पर अब

वे भी 30 सितंबर से तकरीबन 2,500 किलोमीटर लंबी नर्मदा यात्रा करेंगे. इस दौरान वे कुछ ऐसे नियमों का पालन करेंगे जो कुछकुछ संन्यासियों जैसे होते हैं, मसलन खुद के हाथ का बना भोजन करना या भिक्षा मांगना, जमीन पर सोना, किसी के घर न ठहरना वगैरा.

इस अध्यात्मिक यात्रा में उन की नईनवेली खूबसूरत पत्नी अमृता राय उन के साथ रहेंगी. नर्मदा किनारे हरेभरे मैदानों की उन की यह यात्रा कम रोमांटिक भी नहीं होगी. यात्रा के लिए वे अपनी राजनीतिक गुरु सोनिया गांधी

और धर्मगुरु शंकराचार्य स्वरूपानंद से आशीर्वाद ले चुके हैं जो शायद फल जाए. पर इस के लिए 6-7 महीने इंतजार तो सभी को करना पड़ेगा. नर्मदा परिक्रमा से अगर मध्य प्रदेश में कांग्रेस सत्ता में वापस आती है तो यात्रा घाटे का सौदा नहीं.