सरिता विशेष

मैं विवाहित महिला हूं. पति के साथ अच्छे संबंध हैं लेकिन न जाने क्यों पति जब भी किसी महिला की तारीफ करते हैं तो मुझे ईर्ष्या होती है और असुरक्षा की भावना जन्म लेने लगती है. मेरे इस व्यवहार से मेरे और पति के बीच लड़ाई भी हो जाती है. मैं उन्हें किसी भी हाल में खोना नहीं चाहती. मुझे समझ नहीं आता कि मैं खुद को किस तरह समझाऊं कि उन के इस व्यवहार को सामान्य ले सकूं?

एक पत्नी होने के नाते आप अपनी जगह सही हैं और ऐसा उन्हीं परिस्थितियों में होता है जब हम किसी से अत्यधिक प्यार करते हैं और चाहते हैं कि उस प्यार पर सिर्फ हमारा ही हक हो, कोई उस का साझीदार न बने. आप अपने पति के इस व्यवहार को इस तरह समझिए कि जैसे आप को कोई साड़ी, ड्रैस या हेयरस्टाइल पसंद आता है तो आप उस की तारीफ करती हैं? ठीक उसी तरह आप के पति भी अन्य महिला की तारीफ इसी मंशा से करते हैं. इस में कुछ गलत नहीं है. जब आप के पति आप से प्यार करते हैं तो डरने की कोई बात नहीं है. बेबात उन पर शक कर के आप अपना और उन का खुशहाल रिश्ता खराब मत कीजिए.

*

मैं 18 वर्षीय लड़की हूं. मेरी समस्या यह है कि मेरे स्तनों का आकार बहुत बड़ा है जिस की वजह से मुझे परेशानियों का सामना करना पड़ता है. मैं क्या करूं? सलाह दीजिए.

वैसे तो स्तनों का छोटा, बड़ा या सामान्य आकार का होना प्राकृतिक होता है. लेकिन कई बार जैनेटिक कारणों, हार्मोनल असंतुलन, ओबेसिटी यानी अधिक वजन, दवाओं का साइड इफैक्ट्स और स्तनपान कराने के चलते भी स्तनों का आकार बढ़ जाता है. रिसर्च में तो यह बात भी सामने आई है कि तनाव से भी स्तनों का आकार बढ़ता है. बड़े स्तनों के कारण शरीर के पोश्चर पर प्रभाव पड़ता है, साथ ही गरदन व कमरदर्द की भी समस्या हो सकती है. इस के अलावा बड़े स्तनों के कारण वेल फिटेड ड्रैसेज नहीं मिलतीं और फिटेड ब्रा पहनने के कारण त्वचा पर ड्राइनैस, रैशेज व इंफैक्शन की समस्या हो सकती है. बड़े स्तनों का आकार घटाने के लिए आप अपने खानपान में बदलाव लाएं. अगर वजन बढ़ा हुआ है तो वेट मैनेजमैंट करें, क्योंकि फैट घटने से स्तनों का आकार भी घटेगा. हैल्दी व बैलेंस्ड डाइट लें. साथ ही, ब्रिस्क वौकिंग, जौगिंग व स्विमिंग करें. लेकिन इन सब के दौरान फिटनैस इंस्ट्रक्टर और डाक्टर के संपर्क में अवश्य रहें. इन उपायों के अतिरिक्त बाजार में अनेक ब्रेस्ट रिडक्शन पिल्स व क्रीम मौजूद हैं जो ब्रैस्ट के फैट टिश्यूज को टारगेट कर के उन का आकार घटाने में मददगार होती हैं.

*

मैं 24 वर्षीय युवक हूं. समस्या यह है कि मेरी गर्लफ्रैंड, जिस से मेरा विवाह होने वाला है, मुझ पर विश्वास नहीं करती. हर बात पर शक करती है. मैं अपनी हर बात उसे बताता हूं, कुछ भी उस से छिपाता नहीं हूं. फिर भी न जाने क्यों वह मुझ पर विश्वास नहीं करती. मैं उस का विश्वास पाने के लिए क्या करूं?

कई बार लड़कियां लड़कों को जांचनेपरखने के लिए उन पर शक करती हैं. बातबात पर पूछताछ करती हैं. शायद आप की गर्लफ्रैंड के इस व्यवहार के पीछे भी यही कारण हो. वह आप से वैवाहिक बंधन में जुड़ने से पहले आप को पूरी तरह जांचपरख लेना चाहती हो. आप अपनी तरफ से उस से कोई भी बात मत छिपाइए और उसे विश्वास दिलाने की कोशिश कीजिए कि आप पूरी तरह उस के योग्य हैं और उसे हमेशा खुश रखेंगे.

*

मैं 34 वर्षीय विवाहित युवक हूं. समस्या यह है कि पिछले डेढ़ सालों से मेरी सैक्स के प्रति बिलकुल इच्छा नहीं होती. पत्नी की ओर से भी कोई समस्या नहीं है. वह खूबसूरत है, पूरी तरह से मेरे साथ एडजस्ट करती है. ऐसे में मुझे पत्नी को संतुष्ट न रखने का अपराधभाव होता है. मुझे समझ नहीं आ रहा, मेरे साथ ऐसा क्यों हो रहा है और मैं क्या करूं ताकि सैक्स के प्रति मेरी रुचि दोबारा जागृत हो उठे.

आप के केस में अच्छी बात है कि पत्नी को आप से कोई शिकायत नहीं है और वह आप के साथ एडजस्ट कर रही है. आप जानने की कोशिश कीजिए कि पिछले डेढ़ सालों में आप के लाइफस्टाइल में क्या बदलाव आया है. कई बार अधिक तनाव, काम की भागदौड़ या हार्मोनल बदलाव भी सैक्स के प्रति अरुचि का कारण बनते हैं. आप अधिक से अधिक समय पत्नी के साथ अकेले में व्यतीत करें. रोमांटिक फिल्में देखें व रोमांटिक किताबें पढ़ें. इस से भी कोई लाभ न हो तो किसी सैक्सोलोजिस्ट से संपर्क करें.

*

मैं 23 वर्षीय युवती हूं. एक महीने पहले मेरी सगाई हुई है. मेरा मंगेतर दिल का बहुत अच्छा है पर न जाने क्यों उसे छोटीछोटी बात पर गुस्सा आ जाता है जो मुझे परेशान करता है. मैं उसे जितना समझने की कोशिश करती हूं उतना ही अधिक कन्फ्यूज्ड हो जाती हूं. वह हमेशा मुझ से कहता है कि मैं उसे समझने की कोशिश करूं जबकि वह मेरी भावनाओं को नहीं समझता, मुझ में कमियां ढूंढ़ता रहता है. मुझे समझ नहीं आ रहा, मैं क्या करूं? सलाह दीजिए.

आप अपने मंगेतर के घरपरिवार के माहौल को समझने की कोशिश कीजिए. क्या उन के घरपरिवार के अन्य सदस्य भी ऐसे ही हैं या वह किसी समस्या से परेशान है, यह जानने की कोशिश कीजिए. कई बार इंसान किसी बात से परेशान होता है और वह कह नहीं पाता और गुस्से के रूप में अपनी प्रतिक्रिया देता है. आप अपने मंगेतर से अकेले में खुल कर बात कीजिए और पूछिए कि वह क्या समझाना चाहता है, उस की समस्या क्या है. सारी बात जान कर ही कोई निर्णय लीजिए.