सरिता विशेष

मैं 33 वर्षीय कामकाजी महिला हूं. मां का बचपन में ही देहांत हो गया था इसलिए पिता ने दूसरी शादी कर ली. मेरी दूसरी मां व उन के बच्चों का मुझ से व्यवहार अच्छा है. पति सरकारी नौकरी में हैं. हाल ही में मेरी बहन की एक संपन्न परिवार में शादी हुई है जिस में मेरे पिता ने खुल कर खर्च किया. मेरी समस्या यह है कि मेरे पति इस बात से नाराज रहते हैं कि तुम्हारे पिता ने हमारी शादी में कम खर्च किया क्योंकि तुम्हारी मां नहीं थी. जबकि मेरी नई मां व पिताजी हम दोनों बहनों में कोई फर्क नहीं करते. मेरे पति मेरे परिवार वालों से हमेशा उखड़ेउखड़े रहते हैं, उन्हें मेरे अपने परिवार वालों से मिलनेजुलने पर भी परेशानी है. वे चाहते हैं मैं अपनी बहन से कोई रिश्ता न रखूं. जबकि मैं चाहती हूं कि वे मेरे परिवार वालों से मिलजुल कर रहें. पति के इस व्यवहार का असर हमारे आपसी संबंधों पर भी पड़ रहा है. मैं क्या करूं? सलाह दीजिए.

इस प्रकार की प्रतिक्रिया आमतौर पर बेटियों में होती है पर यह अच्छी बात है कि आप की पिता या मां से शिकायत नहीं. यह कम होता है. जहां तक पति की बात है, आप की बातों से लगता है आप के पति फालतू में हीनभावना से ग्रस्त हैं जिस के परिणामस्वरूप वे ऐसा व्यवहार कर रहे हैं. पति को उन बातों, घटनाओं की याद दिलाएं जब आप के मातापिता ने आप के साथ कोई भेदभाव नहीं किया और अच्छा व्यवहार किया हो. उन के शक को दूर करने की कोशिश करें. उन्हें समझाएं कि हर मां सौतेली नहीं होती. साथ ही, उन्हें समझाएं कि ससुराल से मदद लेने पर आप का आत्मसम्मान घटेगा न कि बढ़ेगा. आत्मनिर्भर होने के लिए प्रेरित करें. ?उन्हें समझाएं कि उन का ऐसा व्यवहार उन्हें सब से दूर कर देगा और वे अकेले पड़ जाएंगे. आप चाहें तो अपनी बात कहने के लिए घर के किसी बड़े की मदद भी ले सकती हैं. असल में आप और आप की नई मां आदर्श हैं कि उन में कोई विवाद नहीं है.

मैं 25 वर्षीय युवती हूं. समस्या यह है कि मुझे 3-4 साल से हस्तमैथुन की आदत हो गई है. मैं खुद को कंट्रोल नहीं कर पाती हूं. मैं अपनी इस आदत से छुटकारा पाना चाहती हूं. क्या इस से मेरी हैल्थ पर कुछ गलत प्रभाव पड़ेगा? समस्या का समाधान कीजिए.

आप व्यर्थ ही परेशान हो रही हैं. हस्तमैथुन एक सामान्य प्रक्रिया है. एक अध्ययन के अनुसार, 95 प्रतिशत पुरुष व 89 प्रतिशत महिलाएं हस्तमैथुन करती हैं. यह किसी भी युवक या युवती की पहली सैक्सुअल क्रिया होती है जिसे अधिकांश लोग अनुभव करते हैं. कुछ विशेषज्ञ तो इसे विवाह से पूर्व हार्मोनल परिवर्तन के परिणामस्वरूप बने प्रैशर को रिलीज करने का माध्यम मानते हैं. दरअसल, इस उम्र में सैक्सुअल डिजायर अपनी चरम पर होती है, ऐसे में अजनबियों से सैक्स संबंध स्थापित कर के अवांछित गर्भावस्था व यौनजनित रोगों, जैसे एचआईवी व एड्स से ग्रसित होने से यह कहीं बेहतर है. यह कोई रोग नहीं बल्कि आदत है, जिस से कामेच्छा शांत होती है.

मैं 33 वर्षीय महिला हूं. मेरे चेहरे, नाक व भौंहों पर पिगमैंटेशन की समस्या हो गई है. मैं बहुत परेशान हूं. कृपया कोई उपाय बताएं?

पिगमैंटेशन एक हार्मोनल समस्या है जिस का कारण, थायराइड, पौलिसिस्टिक ओवेरियन डिजीज या अत्यधिक सनऐक्सपोजर हो सकता है. कई बार प्रीमेनोपोज या ओरल कौंट्रासैप्टिव का प्रयोग भी पिगमैंटेशन का कारण होता है. पिगमैंटेशन की समस्या से निजात पाने के लिए आप ब्लीचिंग क्रीम, लेजर ट्रीटमैंट ले सकती हैं. हमेशा 30 एसपीएफ सनस्क्रीन लोशन का प्रयोग करें. चेहरे को धोने के लिए माइल्ड फेसवाश का प्रयोग करें और रात को सोने  से पहले क्लींजर का. फू्रट क्रीम का प्रयोग करें जिस में लैक्टिक ऐसिड व ग्लाइकोलिक ऐसिड होता है जिस से त्वचा की नरीशिंग होगी व पिगमैंटेशन की समस्या दूर होगी.

मैं 28 वर्षीय युवक हूं और एक लड़की से बहुत प्यार करता हूं. वह दबाव में आ कर किसी और से विवाह कर रही है. मैं उस के बिना जी नहीं सकता. उस के बिना रहने के खयाल से ही मैं ने 2 बार आत्महत्या करने की कोशिश भी की लेकिन घर वालों ने बचा लिया. मैं उसे भूल नहीं सकता. बताएं क्या करूं?

किसी लड़की के प्यार में आत्महत्या करना समस्या का हल नहीं है. जब वह लड़की कहीं और विवाह कर रही है तो उसे भूल जाने में ही आप की भलाई है. आप अपना ध्यान अपने कैरियर व मातापिता की जो आप से उम्मीदें हैं उन पर लगाएं. अपने को व्यस्त रखिए. समय के साथ सब ठीक हो जाएगा.

मैं 22 वर्षीय युवक हूं. बीएसएफ में नौकरी करता हूं. मुझे एक 17 वर्षीय लड़की से प्यार हो गया है जिसे मैं ने अभी तक देखा नहीं है. हमारी केवल फोन पर ही बातें हुई हैं. वह मुझ से मिलना व विवाह करना चाहती है. उस के घर वालों को इस बात की जानकारी नहीं है और मेरे घर वाले इस बारे में जानते हैं. लेकिन वे विवाह के लिए राजी नहीं हैं. मैं क्या करूं?

आप ने जिस लड़की को अभी तक देखा नहीं है, कभी उस से मिले नहीं हैं, उस से प्यार व शादी की बात कर रहे हैं. और तो और उस लड़की के परिवार को तो आप के प्यार के बारे में जानकारी भी नहीं है. फिर आप के परिवार वाले भी राजी नहीं हैं. आप खयालीपुलाव मत पकाइए. एकदूसरे से मिलिए, एकदूसरे को जानिए व परखिए. फिर उस के परिवार वालों से मिलिए, उन्हें पूरी बात बताइए. अपने परिवार वालों को भी राजी कीजिए, तभी आगे बढि़ए. वैवाहिक संबंध ऐसे फोन पर बात करने से नहीं जुड़ते. व्यावहारिक स्तर पर सोचिए और फिर कोई निर्णय लीजिए.