मैं 29 वर्षीय युवक हूं. 2 सालों से मेरी एक लड़की से दोस्ती है. मैं उसे पसंद करता हूं. हमारे बीच रोजाना बातचीत होती थी लेकिन पिछले कुछ दिनों से उसे न जाने क्या हो गया है कि वह मुझे फोन तो करती है लेकिन सिर्फ हायहैलो कह कर फोन रख देती है. मुझे समझ नहीं आ रहा कि अचानक उसे ऐसा क्या हो गया है कि वह इस तरह का व्यवहार कर रही है. क्या मैं इसे अपनी दोस्ती का अंत समझूं? सलाह दें.

अचानक से आप के रिश्ते में आप की गर्लफ्रैंड की तरफ से अलगाव या बेरुखी का व्यवहार दर्शाता है कि आप की दोस्त को आप में अब कोई रुचि नहीं रही है. वह आप के प्रति उदासीन हो चुकी है. फिर भी आप उस के कुछ संकेतों जैसे अगर वह आप से मिलनेजुलने में कतराए और अगर मिलने के लिए मान भी जाए तो इंतजार करवाए, अपने दोस्तों से आप को दूर रखने लगे तो इस रिश्ते को बायबाय करने में ही अपनी भलाई समझें क्योंकि एकतरफा रिश्ते की कोई मंजिल नहीं होती.

*

मैं 32 वर्षीय विवाहित पुरुष हूं. आईआईटी फर्म में नौकरी करता हूं. 4 वर्ष पूर्व मेरा विवाह हुआ था. मेरी 3 वर्ष की बेटी है. पिछले कुछ दिनों से पता नहीं मुझे क्या हो गया है कि मैं छोटीछोटी बात पर चिड़चिड़ा जाता हूं, बातबात पर गुस्सा आ जाता है. मेरी पत्नी व बेटी भी मेरे इस व्यवहार से हैरान हैं. मेरी बेटी अब मेरे साथ उस तरह नहीं हंसतीखेलती जैसे पहले खेलती थी. मुझे क्या करना चाहिए?

आप के चिड़चिड़ेपन का कारण कहीं औफिस का कोई तनाव तो नहीं. अगर ऐसा है तो उसे पहले दूर करने का प्रयास करें. इस के अलावा कई बार सोशल साइट्स पर जरूरत से अधिक समय बिताना, पूरी तरह आराम न करना, पूरी नींद न लेना भी किसी के चिड़चिड़ेपन का कारण हो सकता है.

दरअसल, हमारे शरीर में कई तरह के हार्मोन स्रावित होते हैं जो शरीर को सुचारु रूप से चलाने के लिए जरूरी होते हैं. समय पर नहीं सोने से शरीर की डायरनल रिदम नामक प्रणाली बाधित होती है और व्यक्ति में चिड़चिड़ेपन के लक्षण उत्पन्न होते हैं. चिड़चिड़ेपन को दूर करने के लिए खानपान व जीवनशैली व्यवस्थित रखें. परिवार के साथ अच्छा समय बिताएं. सब सामान्य हो जाएगा.

*

मेरा बेटा 10वीं कक्षा का छात्र है लेकिन उस की लंबाई केवल 5 फुट है. अपने छोटे कद के कारण उस के भीतर हीनभावना घर कर रही है. वह शिकायत करता है कि स्कूल में उस के साथी छात्र उस का मजाक बनाते हैं. उस के मन से हीनभावना निकालने के लिए मैं क्या करूं?

किसी भी व्यक्ति की लंबाई बढ़ने या घटने में उस के शरीर में स्थित अनेक हार्मोन्स का योगदान होता है. शारीरिक जांच द्वारा पता लगाया जा सकता है कि किस हार्मोन की कमी से आप के बच्चे की लंबाई नहीं बढ़ रही है. इस के लिए किसी बाल विशेषज्ञ या एंड्रोकाइन विशेषज्ञ की राय लें. वैसे भारतीय जलवायु के अनुसार, लड़कों में 18 वर्ष तक लंबाई बढ़ती है, इसलिए अभी आप के बेटे की लंबाई अगले 2 वर्षों में बढ़ सकती है. इस दौरान उचित खानपान, व्यायाम व खेलकूद द्वारा भी लंबाई को बढ़ाया जा सकता है.

जहां तक हीनभावना की बात है, आप अपने बेटे की अन्य विशेषताओं यानी खूबियों को प्रोत्साहित करें और बताएं कि कद में छोटे होने के बावजूद उस में कई खूबियां हैं जो उसे औरों से बेहतर बनाती हैं. उस का आत्मविश्वास बढ़ाएं.

*

मैं 30 वर्षीया कामकाजी महिला हूं. मेरा विवाह एक संयुक्त परिवार में होने जा रहा है जहां मेरे व मेरे होने वाले पति के अलावा मेरे सासससुर भी हैं. मैं थोड़ी टैंशन में हूं कि मैं उन के साथ कैसे मैनेज करूं, ताकि कोई समस्या पेश न आए. क्या मैं उन की अपेक्षाओं पर खरी उतर पाऊंगी? क्या उन के साथ रहने से हम पतिपत्नी के रिश्ते पर कुछ प्रभाव पड़ेगा. समस्या का समाधान करें.

ससुराल वालों के साथ सकारात्मक रिश्ते बनाने के लिए आप को कुछ तरीके अपनाने होंगे जैसे अगर आप औफिस से घर पहुंचें और आप की सास ने डिनर तैयार कर रखा हो तो उन की तारीफ करें. यह न सोचें कि इस में क्या खास बात क्या है. कई बार ससुराल वालों को नई बहू के व्यवहार और तौरतरीकों को समझने में थोड़ा समय लगता है, ऐसे में अपनी पहचान खोए बिना इन्हें खुद को सही तरीके से समझने का मौका दें. घर में अगर किसी बात को ले कर मतभेद हों तो पति से तरफदारी की उम्मीद किए बिना सासससुर से सीधे संवाद के जरिए मुश्किल का समाधान ढूंढ़ें और इस दौरान उन की बात भी धैर्यपूर्वक सुनें. घर के छोटेबड़े फैसलों में उन की राय लें, इस से उन्हें लगेगा आप उन्हें मानसम्मान दे रही हैं.

*

मैं विवाहित महिला हूं. उम्र 42 वर्ष है. समस्या यह है कि घरेलू परेशानियों की वजह से पति और मेरे बीच आएदिन मतभेद होते रहते हैं. सहवास में भी मेरी इच्छा या अनिच्छा उन के लिए कोई माने नहीं रखती. इसी बीच मेरी दोस्ती फेसबुक पर एक लड़के से हुई है. वह उम्र में मुझ से काफी छोटा है. उस से चैटिंग करना मुझे अच्छा लगता है. मैं बहुत असमंजस की स्थिति में हूं. एक तरफ पति की बेरुखी है तो दूसरी ओर नवयुवक के प्रति आकर्षण. मैं क्या करूं, सलाह दें.

आप बेवजह भटक रही हैं. पति और आप का साथ बरसों पुराना है. थोड़े से मतभेद के चलते उम्र के इस पड़ाव पर किसी आम युवक के प्रति आकर्षण आप को शोभा नहीं देता. वह लड़का आप के साथ सिर्फ टाइमपास कर रहा है. आप अपने पति के साथ अपने मतभेदों को सुलझाइए और मन को व्यर्थ मत भटकने दीजिए वरना आप की विवाहित जिंदगी में तूफान आ सकता है.