मैं24 वर्षीय विवाहिता 2 बच्चों की मां हूं. 1 साल से पति से अलग मां के घर रह रही हूं. दरअसल, मेरी शादी मेरी मरजी के खिलाफ मेरे जीजा से कर दी. वे मुझ से उम्र में 13 साल बड़े थे. जब दीदी नहीं रहीं उस समय मैं सिर्फ 10 साल की थी.
मैं अपनी मौसी के लड़के, जो बचपन से ही मेरे साथ पलाबढ़ा है, से बेहद प्यार करती हूं. वह भी मेरे बच्चों के साथ मु?ो अपनाने को तैयार है. एक राज की बात यह है कि हम दोनों ने कोर्ट में शादी भी कर ली है. बताइए, मैं क्या करूं?

जब आप के जीजाजी से शादी की बात चल रही थी, आप को तभी विरोध करना चाहिए था. शादी आप के बालिग होने के बाद ही हुई होगी.
आप के 2 बच्चे भी हो गए. अब अचानक ऐसा क्या हुआ जो आप मायके में 1 साल से हैं. आप के यहां रहने पर आप के पति व ससुराल वालों पर क्या प्रतिक्रिया हुई, यह नहीं बताया आप ने.
अब वास्तविक स्थिति को भी सम?ा लीजिए कि आप की शादी आप की मौसी के बेटे से हो ही नहीं सकती. वह रिश्ते में आप का भाई है और बिना तलाक लिए आप शादी कर भी कैसे सकती हैं और वह भी कोर्ट मैरिज, कहीं तो कुछ गलत हुआ है. जिंदगी के हर पहलू को सम?ा कर, सोचविचार कर ही निर्णय लें.

 

मैं 30 वर्षीय विवाहित हूं. पत्नी 25 वर्ष की है. हमारी शादी को 7 साल हो चुके हैं. अभी तक बच्चा नहीं हुआ. जब भी सैक्स करता हूं तो अवरोध सा लगता है, शायद उस के गर्भाशय का मुंह बंद हो. डाक्टरों को भी दिखा लिया पर फायदा नहीं हुआ. मैं अपनी जांच में ठीक हूं, बहुत परेशान हूं. क्या करूं?
आप अपनी पत्नी को किसी योग्य डाक्टर को दिखाएं. सभी टैस्ट करने के बाद पता चलेगा कि कारण क्या है. शायद आप जानते हों कि आजकल कई इन्फर्टिलिटी सैंटर भी हैं जहां हर तरह का इलाज किया जाता है. आप डाक्टर की सलाह ले कर जांच करवाइए.

 

मैं 27 वर्षीय विवाहिता, 1 बेटे की मां हूं. वैसे जीवन ठीक चल रहा है पर मेरे पति को शराब पीने की आदत है जिस से मैं परेशान हूं. कहते हैं कि शराब पीना उन का ऐंजौयमैंट है. वे इस बारे में बात तक नहीं करना चाहते, क्या करूं?
शराब पीना दरअसल एक दुर्व्यसन है. आजकल लगभग हर शहर में ही नशामुक्ति केंद्र हैं जहां शराब छुड़ाने का इलाज किया जाता है. आप प्यार व मनुहार से पतिदेव को वहां ले जाएं, तभी समस्या का निदान हो पाएगा.

 

मैं 19 वर्षीय अविवाहिता हूं. 1 साल बाद मेरी शादी होने वाली है पर मेरे वक्षस्थल की ग्रोथ बहुत कम है, इस कारण कपड़ों की फिटिंग भी ठीक नहीं आती. इन्हें बढ़ाने के लिए बहुत सारी देसी दवाएं खाईं व मरहम से मसाज भी किया पर जरा भी फायदा नहीं हुआ. मैं खानेपीने का भी पूरा ध्यान रखती हूं, फिर भी कुछ फर्क नहीं पड़ रहा. आप ही बताइए क्या करूं?
कई बार शारीरिक संरचना ही ऐसी होती है. आप यह सम?ा लीजिए कि कोई देसी दवा खाने या मरहम लगाने से कुछ फर्क नहीं पड़ने वाला. आप नहाने से पूर्व जैतून के तेल से स्तनों की मसाज कर के फुहार लीजिए और खाने में वसा की मात्रा बढ़ा कर देखिए. वैसे शादी के बाद भी स्तनों के आकार में फर्क पड़ेगा.
इस के लिए किसी अच्छे विशेषज्ञ से सलाह ले सकती हैं. वैसे आजकल प्लास्टिक सर्जरी के द्वारा?भी वक्षस्थल को बढ़ाया जाता है. ग्लैमर वर्ल्ड में इस का प्रचलन बहुत ज्यादा है पर यह खर्चीला है. सोचसम?ा कर ही निर्णय लीजिए.

 

मैं 24 वर्षीय विवाहिता, 1 वर्षीय बेटी की मां हूं. शादी को 2 साल हो गए. हमारा प्रेमविवाह हुआ है. पति हर समय मेरे घर वालों को भलाबुरा कहते रहते हैं. मु?ो बहुत परेशान करते हैं. पति सास के काबू में हैं. मु?ो समय नहीं देते. काम या दोस्तों में व्यस्त रहते हैं. मैं एमबीए हूं. सोचती हूं कि नौकरी कर लूं. ससुराल वाले लालची भी हैं. कहिए तो तलाक ले लूं, क्या करूं?
आप एक योग्य स्त्री हैं. आप को तुरंत नौकरी कर लेनी चाहिए. इस से फर्क पड़ेगा पर यह सम?ा लीजिए कि बेटी अभी बहुत छोटी है, उस के बारे में भी सोचें. यह चिंतनीय है कि आप के ससुराल वाले लालची हैं. पर तलाक लेना न तो आसान है और न ही 1 वर्षीय बेटी को ले कर अकेले रह पाना. आप नौकरी कर के देखिए, शायद फर्क पड़े. आप बाहर निकलेंगी तो जीवनशैली में फर्क भी आएगा. हो सकता है पति के व्यवहार में भी बदलाव आए. इस बीच ससुराल वालों और पति से तालमेल बना कर रखें, इस से भी उन के स्वभाव में अंतर आ सकता है.

 

मैं 24 वर्षीय विवाहिता, मुसलिम परिवेश की स्त्री हूं. मैं बड़े शहर में पलीबढ़ी हूं और शादी छोटे शहर में हुई है. घर का वातावरण परदे वाला है, खासतौर पर मेरे शौहर बेहद सख्त किस्म के हैं. वे कहते हैं कि घर से बाहर मत जाओ और पूरे बुरके के साथसाथ हाथों में दस्ताने भी पहनो, आंख और एक बाल तक दिखना नहीं चाहिए. मैं तो इस तरह घुट जाऊंगी. यह घर वालों की तय की गई शादी है, कुछ कह नहीं सकती. आप ही बताइए, क्या करूं?
देखिए, शारीरिक पहनावा अलगअलग किस्म का होता है. आप अपने शौहर या ससुराल में किसी बड़े से बात कर के देखिए. हो सकता है कुछ राहत मिल जाए. जब आप के शौहर का मूड अच्छा हो तो आप उन्हें प्यार से समझाइए कि इस तरह के पहनावे से मेरा दम घुटता है. हो सकता है वे आप की बात को मान लें और आप की समस्या का समाधान हो जाए.