ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हुए मुकुल राय को अब समझ आ रहा है कि टीएमसी एक लिमिटेड कंपनी जैसी हो गई है और ममता बनर्जी को भी पूर्व मुख्यमंत्री ज्योति बसु वाला छुट्टियां मनाने के लिए लंदन जाने जैसा रोग लग गया है.

मुकुल राय के मुताबिक, तृणमूल कांग्रेस टूट कर रहेगी और ममता बनर्जी देखती रह जाएंगी. यह एक आम परंपरा है कि दलबदल करने वाला नेता पुराने दल की खोट जनता को बताता है. उस की हालत उस सरकारी गवाह जैसी हो जाती है जिसे अपराध में सहयोग देने के बाबत माफी मिल जाती है.

भाजपा ममता बनर्जी को बड़ा झटका देने में कामयाब रही है और अभी और भी झटके देगी क्योंकि उसे पश्चिम बंगाल में जड़ें जमाने के लिए आयातित और बिकाऊ नेताओं की सख्त जरूरत है और इन रिक्तियों की कोई सीमा उस ने तय नहीं की है.

COMMENT