सरिता विशेष

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से अनौपचारिक संबंधों का प्रदर्शन करते रहने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उस वक्त जरूर बुरा लगा होगा जब व्हाइट हाउस के चीफ फोटोग्राफर ने ओबामा के कार्यकाल की स्मरणीय तसवीरों में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और उन की पत्नी गुरुचरण कौर की फोटो को पहले नंबर पर रखा जिस में मनमोहन सिंह सूटबूट पहने काफी रुतबेदार और अभिजात्य भी लग रहे हैं. यानी बराक भाई, बराक भाई कहते रहने का सिला उम्मीद के मुताबिक पीएम नरेंद्र मोदी को नहीं मिला, जिन्होंने ओबामा के स्वागत में लालगुलाबी कालीन बिछाते खुद अपने हाथों से चाय पिलाई थी. सच यह है कि गैरकांग्रेसी प्रधानमंत्रियों की बौडी लैंग्वेज में वह बात आ ही नहीं पाती जो कांग्रेसी प्रधानमंत्रियों की बौडी लैंग्वेज और आम लैंग्वेज में भी होती है. अब उम्मीद है कि वहां के नए राष्ट्रपति के साथ मोदी इस बात का ध्यान रखेंगे.