सरिता विशेष

केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने भी अपना नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चमचों वाली लिस्ट में बाफख्र दर्ज करवा दिया है. अब उन की निष्ठा पर कोई संदेह नहीं करेगा. इतना ही नहीं, लोग इसे सिर्फ चमचागीरी ही समझें, इस के लिए उन्होंने यह खुलासा भी बड़े रहस्यमय अंदाज में किया कि विवादित और चर्चित फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ में आम आदमी पार्टी का पैसा लगा है. आमतौर पर बोर्ड का किसी फिल्म को सर्टिफिकेट देने, न देने का कोई ऐसा नियम या पैमाना नहीं है कि फिल्म में किस का पैसा लगा है लेकिन पहलाज ने गजब की जासूसी करते यह बात, अपनी कुरसी बचाए रखने के लिए, कह डाली जिस का कोई अर्थ, महत्त्व या औचित्य ही नहीं था. यह जरूर कहा जा सकता है कि मोदी का चमचा बनने के लिए उन्होंने प्रवेश परीक्षा पास कर ली है. भाजपा चाहे तो अब एक और प्रकोष्ठ बना सकती है पीएम चमचा प्रकोष्ठ जिस का मुखिया अभिनेता अनुपम खेर को बना दिया जाए. और इस चमचा प्रकोष्ठ के द्वार सभी के लिए खोल दिए जाएं तो 1-2 साल में यह प्रकोष्ठ गांवगांव में दिखने लगेगा.