सरिता विशेष

इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) की शुरुवात अप्रैल से देशभर में होने जा रही है. पोस्ट औफिस पहले यह जानकारी दे चुका है कि उनके पेमेंट्स बैंक का विस्तार तेजी से हो रहा है और अप्रैल से पूरे देश में इसका नेटवर्क काम करना शुरू कर देगा. बताया जा रहा है कि आईपीपीबी एयरटेल और पेटीएम के बाद यह तीसरा ऐसा पेमेंट बैंक होगा जो पूरी तरह से काम शुरू कर देगा. गौरतलब है कि भारतीय रिजर्व बैंक ने 2015 में ही एयरटेल और पेटीएम के साथ ही भारतीय डाक विभाग के अलावा अन्य कई को पेमेंट बैंक खोलने की मंजूरी दे दी थी.

इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक की सेवाएं देश के सभी 1.55 लाख डाकघरों में ली जा सकेगी. पोस्ट औफिस के पेमेंट्स बैंक की सेवा शुरू करने का सबसे ज्यादा फायदा दूर-दराज के उन इलाकों को मिलेगा, जिनकी पहुंच अभी बैंकिंग सिस्टम तक नहीं है. इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक यह सेवा डाकियों और डाक सेवकों की मदद से लोगों के दरवाजे तक पहुंचाई जाएगी. इसके लिए इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक की 650 शाखा का नेटवर्क काम करेगा. भारतीय पोस्ट औफिस की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक इस सेवा के विस्तार का काम पूरा होने से देश का वित्तीय नेटवर्क काफी मजबूत हो जाएगा.

आपको बता दें कि पेमेंट्स बैंक पूरी तरह बैंक नहीं होते. हालांकि ये सामान्य बैंकों की तरह ही कई सुविधाएं आपको मुहैया कराते हैं. पेमेंट्स बैंक में आप 1 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं. इसके आलावा पैसे भेजने और प्राप्त करने समेत इंटरनेट बैंकिंग की सेवा भी ये बैंक देते हैं. बल्कि ये बैंक सामान्य बैंकों की तरह लोन नहीं दे सकते. आईपीपीबी की ये सेवा अप्रेल से शुरू होने के बाद काफी लोग इसका लाभ उठा सकेंगे.