सरिता विशेष

देश में हजारों-लाखों की संख्या में लोगों के पास कई ऐसे आइडिया मौजूद हैं, जो शायद बड़ी से बड़ी समस्याओं को झट से दूर कर सकता है. लेकिन उन लोगों को इसके लिए प्रोत्साहन नहीं मिलता. देश में ऐसे कई भावी इंजीनियर्स, साइंटिस्ट, म्यूजिशियन, लेखक आदि हैं जिनके विचारों और खोज को देखा जाए तो लोगों की आंखे खुली के खुली रह जाएंगी. कुछ ऐसी ही विशेषताओं से भरे एक नए शो ‘टेड टौक्स इंडिया’ की शुरुआत स्टार प्लस पर हो चुकी है. जिसमें होस्ट की भूमिका में बौलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख नजर आ रहे हैं.

बता दें कि बीते रविवार को इसका पहला एपिसोड आ चुका है. जिसमें विभिन्न क्षेत्रों से आए लोगों ने अपने-अपने विचार रखे. यहां पर आने वाले लोगों ने अपने विचारों और अपनी वैज्ञानिकी से लोगों को काफी प्रभावित भी किया. पहले एपिसोड की शुरुआत झुग्गी और बस्तियों का कैसे विस्तार किया जाए इसके बारे में गौतम भान ने जानकारी दी. उनके अलावा शुभेंदु शर्मा ने कम जगह में जंगलों को उगाने और साइंटिस्ट मनु प्रकाश ने कागज के खिलौने से बीपी को मापने की तरकीब बताई. बाद में इंदौर की स्नेहा ने न दिखाई देने वाला इंस्ट्रूमेंट को बजाया, जिसे देख लोग काफी अचंभित हुए.

मालूम हो कि ‘टेड टौक्स’ के नाम से आने वाला यह शो भले ही भारत में पहली बार शुरू हुआ है, लेकिन अमेरिका में यह काफी समय पहले से टेलीकास्ट हो रहा है.

इस शो के आखिरी में अनिरुद्ध शर्मा ने गाड़ियों से निकलने वाले धुंए को इंक में कनवर्ट करने का तरीका दिखलाया. अनिरुद्ध के मुताबिक यदि इस तकनीकी को फौलो किया जाए तो गाड़ियों से निकलने वाले धुंए से होने वाले वायु प्रदुषण से न सिर्फ छुटकारा मिलेगा बल्कि इसका सदुपयोग भी होगा.

यह शो कुछ कुछ बौलीवुड के परफेक्शनिस्ट कहे जाने वाले आमिर खान के सत्यमेव जयते से मिलता जुलता दिख रहा है. क्योंकि दोनों ही शो का कान्सेप्ट लगभग एक जैसा ही है. जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कि इस शो में फिल्म स्टार शाहरुख शो को होस्ट कर रहे हैं पर उनकी बातें लोगों को कुछ खास प्रभावित नहीं कर पा रही हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि शाहरूख के बोलने का अंदाज कुछ ऐसा है दिसे देखकर ऐसा लग रहा कि वह कैमरे के सामने होस्टिंग नहीं कर रहे बल्कि सिर्फ टेलीप्राम्टर पढ़ रहे हैं.

फिलहाल शो का कान्सेप्ट तो काफी अच्छा है पर देखना ये है कि ये शो लोगों को कितना प्रभावित कर पाने में कितना सफल होता है.