सरिता विशेष

चौदह वर्ष के लंबे संघर्ष के बाद अब जब नवाजुद्दीन सिद्दिकी का करियर पटरी पर दौड़ रहा है, तो वह अपनी हरकतों से खुद को विवादों के साथ साथ कानूनी पचड़ो में भी फंसाते जा रहे हैं. वास्तव में नवाजुद्दीन सिद्दिकी अपनी आत्मकथा ‘‘एक आर्डिनरी लाइफःए मैमोर’’ लेकर आ रहे हैं.

यूं तो यह पूरी किताब दो नवंबर 2017 को बाजार में आएगी. लेकिन इस आत्मकथा के कुछ अंश मुंबई के एक अंग्रेजी अखबार में जब से छपे हैं, तब से नवाजुद्दीन सिद्दिकी पर कुछ अभिनेत्रियों ने झूठा और सिम्पैथी बटोरने के लिए किसी भी हद तक जा सकने वाला बताते हुए कई तरह के आरोप लगाए हैं. यह वह अभिनेत्रियां हैं,जिनके साथ रिश्तों की बात अपनी किताब में नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने लिखी है.

नवाजुद्दीन सिद्दिकी की किताब के कुछ पन्ने बाहर आने के बाद सबसे पहले फिल्म ‘‘मिस लवली’’ में नवाजुद्दीन सिद्दिकी की सह कलाकार रही अभिनेत्री निहरिका सिंह ने हमला बोला. निहारिका ने नवाज को छोड़ने की वजह बताते हुए कहा है कि नवाजुद्दीन सिद्दिकी पहले से ही शादीशुदा थे.

उनकी पत्नी गांव में थी, पर इस बात को नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने उनसे छिपायी थी. इसके अलावा वह एक अमरीकन लड़की के साथ भी प्यार की पेंगें बढ़ा रहे थे. निहारिका सिंह ने लगभग चार दिन पहले नवाजुद्दीन सिद्दिकी के खिलाफ कानूनी कारवाही करने की बात कही थी. वह तो अभी तक आगे नही बढ़ी.

मगर नवाजुद्दीन सिद्दिकी अपनी आत्मकथा और निहारिका सिंह के साथ रिश्तों को लेकर जो कुछ लिखा, उसकी वजह से कानूनी पचडे़ं में फंसते नजर आ रहे हैं. इसकी वजह यह है कि दिल्ली के एक वकील गौतम गुलाटी ने ‘‘राष्ट्रीय महिला आयोग’’के समक्ष शिकायत दर्ज कराते हुए नवाजुद्दीन सिद्दिकी के खिलाफ आई पी सी की धारा 376 यानी कि बलात्कार, धारा 497 यानी कि व्याभिचार और आईपीसी की धरा 509 यानी कि स्त्री की लज्जा का अनादर करना, के तहत एफआरआई दर्ज कराने की भी मांग की है.

गौतम गुलाटी ने अपनी शिकायत में लिखा है कि निहारिका सिंह के साथ प्रेम संबंध व रिश्ता रखने के दौरान नवाजुद्दीन सिद्दिकी शादीशुदा थे और यह बात उन्होने निहारिका सिंह से छिपायी थी.

मजेदार बात यह है कि एडवोकेट गौतम गुलाटी का दावा है कि वह आज तक निहारिका सिंह से नहीं मिले, पर जो कुछ छपा है, उस आधार पर उन्होंने यह शिकायत दर्ज करायी है.

उधर ‘‘राष्ट्रीय महिला आयोग’’ से जुड़े सूत्र बताते हैं कि अपनी शिकायत में एडवोकेट गौतम गुलाटी ने लिखा है-‘‘अभिनेता ने अपनी किताब में जो कुछ लिखा है, उसे लिखते समय उसने इस पर विचार ही नहीं किया कि इससे किसी शादीशुदा महिला की जिंदगी बर्बाद हो सकती है. महज सस्ती शोहरत बटोरने व किताब से पैसा कमाने के लिए नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने स्त्री की लज्जा का अनादर किया है.’’

सूत्रों की माने तो इस पर ‘‘राष्ट्रीय महिला आयोग’’ सक्रिय हो गया है. और वह इस पर सुनवाई करने के लिए नवाजुद्दीन सिद्दिकी को नोटिस भेजने की तैयारी कर रहा है.