सरिता विशेष

यूं तो बौलीवुड से जुड़ने वाला हर कलाकार यही दावा करता है कि वह अपने आपको खुशकिस्मत समझता है कि अभिनय के क्षेत्र में कार्यरत होने की वजह से वह अपनी एक ही जिंदगी में कई जिंदगियां जीने का सौभाग्य पा गया.

मगर जब  से अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दिकी की बायोग्राफी/आत्मकथा बाजार में आयी है, तब से जिस तरह से इस बायोग्राफी की वजह से उन पर आरोप लग रहे हैं, उससे जो  तस्वीर उभर रही है, उससे तो यही आभास होता है कि नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने अपनी निजी जिंदगी में भी अपने चेहरे पर अनेक मुखौटे लगा रखे हैं. वह हकीकत में सिर्फ झूठ का पुलिंदा मात्र हैं? फिर भी हम भी हम यही मानते हैं कि असली सच तो नवाजुद्दीन सिद्दिकी या फिल्म ‘‘मिस लवली’’ की उनकी सह कलाकार  निहारिका और सुनीता राजवार ही बेहतर जानती हैं?

नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने अपनी बायोग्राफी ‘‘एन आर्डीनरी लाइफ’’ में कई औरतों के संग अपने रिश्तों को लेकर खुलकर बात की है. इस किताब में उन्होंने अपनी कमजोरियों को भी स्वीकार किया है. नवाजुद्दीन ने अपनी किताब में अपने प्रेम संबंधों को स्वीकार करते हुए स्वीकार किया है कि उनका लगाव प्रेमिकाओं के शरीर के प्रति ही था. पर अंततः उन्होंने खुद को महान साबित करने का ही प्रयास किया है. जब से यह किताब और इसके अंश उजागर हुए हैं, तब से उन पर लगातार हमले हो रहे हैं.

निहारिका सिंह और नवाजुद्दीन सिद्दिकी

सबसे पहले फिल्म ‘‘मिस लवली’’ में नवाजुद्दीन सिद्दिकी की सह कलाकार रहीं निहारिका सिंह ने नवाजुद्दीन को एक नंबरी झूठा बताते हुए उन पर कई तरह के आरोप लगाते हुए नवाजुद्दीन सिद्दिकी पर सबसे बड़ा आरोप लगाया कि नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने अपनी किताब को बेचने के लिए किताब के अंदर महिलाओं के सम्मान की धज्जियां उड़ाई हैं. वास्तव में नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने अभिनेत्री निहारिका के साथ अपने संबंधों का जिक्र करते हुए लिखा है-‘‘मैं पहली बार निहारिका के घर गया…जैसे ही दरवाजा खोला…हजारों मोमबत्तियां टिमटिमा रही थीं. मैं ठहरा देहाती कामुक आदमी, मैंने उसे बांहों में भरा और सीधे बेडरूम में दाखिल हो गया. हमने जमकर प्यार किया….’’.

निहारिका सिंह ने कहा है- ‘‘नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने जो कुछ भी मेरे संदर्भ में अपनी किताब में लिखा है, वह सब गलत व ‘झूठ का पुलिंदा’ के अलावा कुछ नहीं है. उनसे मेरा संबंध डेढ़ साल नहीं फिल्म ‘मिस लवली’ के दौरान कुछ माह का था. ऐसे में उनका यह कहना कि मैं उनके बिस्तर पर होती थी, सरासर गलत है. इसके अलावा भी मेरे संबंध में जो कुछ नवाज ने लिखा है, वह सब झूठ है.’’

निहारिका सिंह

निहारिका सिंह के आरोपों पर नवाजुद्दीन सिद्दिकी सफाई पेश करते उससे पहले ही ‘राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय’’ में उनकी जूनियर रहीं तथा ‘मैं माधुरी दीक्षित बनना चाहती हूं, ‘एक चालीस की लास्ट लोकल’, ‘संकट सिटी’ जैसी फिल्मों व ‘‘शुगुन’’, ‘रामायण’, ‘हिटलर दीदी’, सहित कई टीवी सीरियलों में अभिनय कर चुकी अभिनेत्री सुनीता राजवार ने तो नवाजुद्दीन सिद्दिकी के खिलाफ सोशल मीडिया यानी कि ‘‘फेसबुक’’ पर लंबा चौड़ा लेख लिखकर नवाजुद्दीन सिद्दकी की धज्जियां उड़ाते हुए उन्हे औरतों का सबसे बड़ा दुश्मन तक बता दिया है.

बात यहीं खत्म नहीं होती है. फेसबुक पर टीवी सीरियलों से जुड़े कई निर्देशक, अभिनेता व अभिनेत्रियां भी सुनीता राजवार के समर्थन में उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी नजर आ रही हैं. सुनीता राजवार ने नवाजुद्दीन सिद्दिकी को उन्हीं की भाषा में जवाब देते हुए अंत में लिखा है,-‘‘मैं पहाड़न नहीं, पहाड़ हूं.’’

सुनीता राजवार

वास्तव में नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने अपनी इस किताब में सुनीता राजवार को अपनी पहली प्रेमिका बताया है. नवाज ने लिखा है कि मुंबई में उन्हें कैसे एक अभिनेत्री से इश्क हुआ था. और एक दिन वह उन्हें छोड़कर चली गयी थी.

पर सुनीता राजवार ने अपनी फेसबुक पोस्ट में आरोप लगाया है कि नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने उनसे कई झूठ बोले हैं. नवाज को औरतों की इज्जत करनी नहीं आती. नवाजुद्दीन सिद्दिकी से अपने अलग होने की असली वजह बताते हुए सुनीता राजवार ने लिखा है-‘‘नवाजुद्दीन ने इस किताब में सब कुछ अपनी मनमाफिक लिखा है. उन्होंने बड़ी खूबसूरती से सारी बुराई का ठीकरा औरतों पर फोड़ दिया है. सबसे बड़ा झूठ यही है कि उन्होंने लिखा है कि एनएसडी में वह मुझसे मिले ही नहीं थे, जबकि एनएसडी में वह मेरे सीनियर थे. तो जाहिर है कि हमारी मुलाकात तो होती होगी. नवाज हमेशा से सिम्पथी सीकर रहे हैं. सहानुभूति बटोरने के लिए वह खुद को गरीब, वाचमैन की नौकरी करने जैसी बातें करते हैं, जबकि वह एक अच्छे परिवार से थे. मैं तो अपने दोस्त के घर रहकर स्ट्रगल कर रही थी. मैंने तुम्हे इसलिए छोड़ा था, क्योंकि तुम हमारे संबंधों का मजाक बनाते हुए सब ब्यक्तिगत बातें हमारे कामन फ्रेंड्स के साथ शेयर करते थे. तब मुझे पता चला कि तुम औरत और प्यार के बारे में क्या राय रखते हो. मैंने तुम्हे तुम्हारी गरीबी की वजह से नहीं, तुम्हारी गरीब सोच की वजह से छोड़ा था. अभी तो मेरी हर शिकायत से तेरा कद बहुत छोटा है.’’

नवाजुद्दीन सिद्दिकी भी फेसबुक पर हैं. सुनीता का पोस्ट आए तीन दिन बीत जाने  के बावजूद नवाजुद्दीन सिद्दिकी चुप हैं.