आखिरकार सलमान खान को भी अब अहसास हो गया कि ‘‘पैसे से सब कुछ नहीं खरीदा जा सकता.’’ इसकी वजह यह है कि कुछ दिन पहले सलमान खान ने अहमदाबाद निवासी सिराज खान पठान के विश्व प्रसिद्ध घोड़े सकाब को खरीदने के लिए सिराज खान पठान को एक बिचौलिए के माध्यम से दो करोड़ रूपए देने की पेशकश की थी, मगर सिराज खान ने अपने इस घोड़े को बेचने से साफ इंकार कर दिया.

जबकि सूत्रों के अनुसार जब इस घोड़े की उम्र पांच वर्ष थी, तब सिराज खान पठान ने इस घोड़े को राजस्थान के एक मेले में महज साढ़े चौदह लाख रूपए में खरीदा था. इस घोड़े के वह तीसरे खरीददार थे. पहले इसका नाम तूफान था, दूसरे खरीददार ने इसका नाम बदलकर पवन किया था, पर सिराज ने इसे नाम दिया- ‘सकाब’.

वास्तव में सकाब अपने आप में पूरे भारत में अनूठा घोड़ा है. सकाब की बराबरी पूरे विश्व में सिर्फ दो घोड़े कर सकते हैं, जिसमें से एक घोड़ा अमरीका में है और दूसरा कनाडा में है. सकाब 43 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ता है और उसकी इस गति में कोई बदलाव नहीं आता, इससे घुड़सवार के लिए उसकी सवारी करना काफी आसान हो जाता है. अब तक इतिहास में किसी अन्य घोड़े के बारे में ऐसा नहीं सुना गया.

एक अखबार के मुताबिक सकाब की मां पाकिस्तानी सिंधी नस्ल की थी. जबकि इसके पिता राजस्थानी सुथारवाड़ी नस्ल के थे. यह घोड़ा अब तक 19 दौड़ जीत चुका है, पर सिराज ने अपने इस घोड़े सकाब को किसी प्रतियोगी घुड़दौड़ का हिस्सा नहीं बनाया.

VIDEO : अगर प्रमोशन देने के लिए बौस करे “सैक्स” की मांग तो…

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.

Tags: