EXCLUSIVE : पाकिस्तान की इस मौडल ने उतार फेंके अपने कपड़े, देखिए वीडियो

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.

सिनेमा कभी भी भाषा का मोहताज नही होता. हर बड़ा फिल्मकार मानता है कि सिनेमा किसी भी देश की संस्कृति का वाहक हो सकता है और अब यही बात माजिद मजीदी की भारतीय कलाकारों के साथ भारतीय पृष्ठभूमि की कहानी पर भारत में ही फिल्मायी गयी फिल्म ‘‘बियांड द क्लाउड्स’’ से भी उभरकर आ रही है. जब से ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी भारत की यात्रा पर आए और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले, तब से यह चर्चा कुछ ज्यादा ही हो रही है.

इरानियन राष्ट्रपति हसन रूहानी और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आपसी बातचीत के दौरान आतंकवाद के खात्मे के लिए दोनों देशों के बीच सभ्यता संस्कृति व सूचना के आपसी आदान प्रदान पर जोर दिया.

bollywood

दोनों नेताओं ने दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक आदान प्रदान के लिए सिनेमाई सहयोग को सबसे बड़ी जरुरत बतायी. उन्होने सार्थक सिनेमा के माध्यम से दोनो देशों के प्रतिभाशाली लोगों को एक साथ लाने पर भी जोर दिया. इन नेताओं के बीच हुई बातचीत की पृष्ठभूमि में ईरानियन फिल्मकार माजिद मजीदी की फिल्म ‘‘बियांड द क्लाउड्स’’ की  चर्चा हो रही है.

कहा जा रहा है कि फिल्मकार माजिद मजीदी का पहला सिनेमाई भारतीय प्रवास मुख्य केंद्र स्थान बन गया है. इस फिल्म का जिक्र करते हुए रूहानी ने कहा कि इसी तरह सिनेमा के क्षेत्र में दोनों देशों की प्रतिभाओं के ज्यादा से ज्यादा एक साथ आने पर बल दिया जाना चाहिए.

Tags: