सरिता विशेष

मशहूर एडीटर, ‘जाने मन’ तथा ‘जोकर’जैसी असफल फिल्मों के निर्देशक और मशहूर नृत्य निर्देशक व निर्देशक फरहा खान के पति शिरीष कुंडेर कई वजहों से यदा कदा विवादों से घिरे रहते हैं. अब उन पर नेपाली फिल्म ‘‘बीओबी’’ को चुराकर अपनी सायकोलाजिकल थ्रिलर लघु फिल्म ‘कृति’ बनाने का आरोप लगा है.

अभी दो दिन पहले ही शिरीष कुंडेर ने मुंबई में अपने निर्देशन में बनी सायकोलाजिकल थ्रिलर लघु फिल्म ‘‘कृति’’ को ‘‘यूट्यूब’’ पर रिलीज किया. इस लघु फिल्म को कंगना रानौट के हाथों रिलीज कराया गया था. शिरीष कुंडेर निर्देशित सायकोलाकिल थ्रिलर 18 मिनट लंबी लघु फिल्म ‘‘कृति’’ में मनोज बाजपेयी और राधिका आप्टे ने अभिनय किया है. अपनी आदत से मजबूर बौलीवुड की हर छोटी बड़ी शख्सियत ‘कृति’ की प्रशंसा में कसीदे पढ़ते हुए नहीं थक रही है. उधर शिरीष कुंडेर का पीआर दावा कर रहा है कि शिरीष कुंडेर की फिल्म ‘‘कृति’’ को कई करोड़ लोगों ने ‘यूट्यूब’ पर देखा है.

इन सब के बीच नेपाली फिल्मकार अनील न्यूपाने ने आरोप लगाया है कि शिरीष कुंडेर ने उनकी 17 मिनट की लघु फिल्म ‘बीओबी’’ को चुराकर ‘कृति’ बनाई है. लेखक व निर्देशक अनील न्यूपाने का दावा है कि उनकी फिल्म ‘‘बीओबी’’ अक्टूबर 2015 में कुछ दोस्तो को देखने के लिए वीमियो पर प्रायवेट वीडियो के रूप में लोड की गयी थी और 12 मई 2016 में उन्होंने इसे यूट्यूब पर रिलीज किया. जबकि शिरीष कुंडेर खुद को पाक साफ बता रहे हैं.

मगर ‘‘बीओबी’’ देखने के बाद  अनील न्यूपाने के आरोपों में दम नजर आता है. ‘बीओबी’ और ‘कृति’ दोनो में सायक्रेटिक/मनोवैज्ञानिक डाक्टर के साथ जो दृश्य हैं, वह एक समान हैं. दूसरी समानता यह है कि दोनों ही फिल्मों का मुख्य प्रोटोगानिस्ट दिमागी बीमारी का शिकार है. इतना ही नहीं सायक्रेटिक/ मनोवैज्ञानिक डाक्टर  द्वारा पूछे गए सवाल भी दोनो ही फिल्मों में एक जैसे ही हैं.

 

नेपाली फिल्म ‘‘बीओबी’’ का लिंकः

https://youtu.be/RkEv0MWM-7E

 

शिरीष कुंडेर की फिल्म ‘‘कृति’’ का लिंकः

https://youtu.be/b5GGKuK3iEI

 

इसके बावजूद शिरीष कुंडेर  चोरी के आरोप को गलत बता रहे हैं. जी हां! ट्विटर पर बीओबी के लेखक व निर्देशक ने एक खुला पत्र लिखकर अक्टूबर 2015 का वीडियो भी जारी किया है. इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए जब लोगों ने शिरीष पर हमला बोलना शुरू किया, तो शिरीष ने भी ट्वीटर पर जाकर सफाई देते हुए लिखा-‘‘जो लोग मेरी फिल्म की तुलना ‘बीओबी’ से कर रहे हैं, उन्हे पता होना चाहिए कि हमने अपनी फिल्म ‘कृति’ को फरवरी 2016 में फिल्माया था, जबकि ‘बीओबी’ तो 12 मई 2016 को रिलीज हुई. उम्मीद है कि इससे सारा मामला सुलझ गया.’’

इस पर फिल्म ‘‘बीओबी’’ के निर्देशक ने ट्विटर पर एक खुला पत्र लिख दिया. इस खुले पत्र को पुणे के फिल्मकार ब्रूस ली सहित कईयों ने ट्विटर पर रीट्वीट किया है.

इसके जवाब में शिरीष कुंडेर ने ट्वीटर पर लिखा-‘‘उन्होने कहा है कि वीमियो (पर नजदीकी दोस्तों के लिए लिंक दी थी. तो मैं उनका दोस्त नही हूं.’’

मजेदार बात यह है कि जब से शिरीष कुंडेर पर चोरी करने का आरोप लगा है, तब से पूरा बौलीवुड मौन है. कल तक शिरीष कुंडेर की फिल्म की प्रशंसा करने वाले भी अब इस मसले पर अपनी कोई राय नहीं दे रहे हैं.

जबकि बौलीवुड की कुछ हस्तियां अपना नाम छिपाकर शिरीष कुंडेर को सजा देने की बात जरूर कर रही हैं. एक फिल्मकार ने नाम छिपाते हुए ‘‘सरिता’’ पत्रिका से कहा-‘‘शिरीष ने नेपाली फिल्म ‘बीओबी’ की नकल कर एक घटिया फिल्म बनायी है. नेपाली फिल्म ‘बीओबी’ तो ‘कृति’ के मुकाबले कई गुना बेहतर फिल्म है.’’

एक फिल्मकार ने नाम गुप्त रखते हुए ‘‘सरिता’’ पत्रिका से कहा-‘‘शिरीष ने ‘बीओबी’ के निर्माता से अधिकार नहीं खरीदे. यह पूरी तरह से कापीराइट के उल्लंघन का मामला है. यूटय्ब को चाहिए कि वह शिरीष कुंडेर या ‘कृति’ के निर्माता को एक भी पैसा न दे और इस तरह की खुलेआम चोरी करने वाले को सजा मिलनी चाहिए.’’

नेपाली फिल्म ‘‘बीओबी’’ के लेखक व निर्देशक अनील न्यूपाने का खुला पत्रः

(नोटः अंग्रेजी पत्र का हिंदी अनुवाद)

मैंने व ‘जाज प्रोडक्शन’ की हमारी पूरी टीम ने लघु फिल्म ‘बीओबी’ को रिलीज करने के लिए एड़ी चोटी की मेहनत की है. ‘बीओबी’ को हम सभी ने अपना खून पसीना दिया है. हमें फिल्म को बनाने के लिए पैसे की जरुरत थी, तो हमने अपने दोस्तों से मदद मांगी. मैने अपने मित्र खासकर तेजस्वी रजथाला से मदद की गुहार लगायी और तेजस्वी रजथाला (जाज प्रोडक्शन, ऑस्ट्रेलिया) ने हमारी मदद की. पर हमें सीमित बजट में फिल्म पूरी करनी थी. हमें सिर्फ 32 हजार भारतीय रूपए ही मिले. इतनी कम राशि में फिल्म बनाना संभव नहीं था. लेकिन मैं अपनी पूरी तकनीकी टीम व कलाकारों का आभारी हूं, जिनके चलते ही फिल्म बन सकी.

हमारी फिल्म अक्टूबर 2015 में तैयार हो गयी. तब हमने इसे प्राइवेट वीडियो के रूप में अपने खास दोस्तों के लिए वीमियो पर लोड किया, यह वीडियो सात महीने पुराना है. फिर 12 मई 2016 को हमने इसे यूट्यूब पर रिलीज किया, जिसे 3033 लोगों ने देखा. पर हमें तमाम लोगों की तरफ से संदेश मिल रहे हैं, कई लोग बीओबी की प्रशंसा कर रहे हैं. हमारे लिए दर्शकों की प्रतिक्रिया बहुत मायने रखती है.’’

कल यानी कि 23 जून 2016 को मैंने शिरीष कुंडेर की फिल्म ‘कृति’ यूट्यूब पर देखी. मुझे लगा कि थोड़ी बहुत समानताएं हो सकती हैं. मगर अब मेरी समझ में नही आ रहा है कि इस दिशा में मैं क्या करूं? मैं इस बात को लेकर गुस्सा नहीं हूं कि शिरीष कुंडेर ने मेरी फिल्म का पूरा प्लाट चुराकर अपनी फिल्म बना ली. हम गुस्सा इसलिए हैं कि जब हम ‘बीओबी’ बना रहे थे, तो हमारे पास भोजन के लिए भी पैसे नहीं थे. जबकि शिरीष कुंडेर की फिल्म कृति के स्पाट ब्वाय को फिल्म ‘बीओबी’ के बजट से भी ज्यादा पैसे मिले हैं. मैंने और मेरी टीम ने गधा मजदूरी इसलिए नहीं की थी, कि कल को कोई भारत से अमीर इंसान आएगा और इस तरह हमारी मेहनत पर पानी फेर देगा. यह कहीं से भी सही नही है.

पर हमारे लिए यह बहुत बड़ी उपलब्धि है. हमारी नेपाली फिल्म इंडस्ट्री में तमाम नेपाली फिल्में बौलीवुड फिल्मों से प्रेरित होकर बनायी जाती है. हमारे फिल्मकार बैठकर कई बौलीवुड फिल्में देखते हैं और उन सबका मिश्रण कर एक नेपाली फिल्म बना लेते हैं. लेकिन मेरी नेपाली फिल्म ने बालीवुड के ए ग्रेड के कलाकारों व निर्देशकों को प्रभावित किया. मैं सोचता हूं कि यह नेपाल की बहुत बड़ी जीत है. यह जानकर सुखद अहसास हुआ कि नेपाल का एक छोटा फिल्मकार भी बौलीवुड के बड़े कलाकारों व निर्देशकों को प्रेरित करता है.

अब ईमानदारी की बात तो यह है कि मेरी समझ में नहीं आ रहा है कि आगे मैं क्या करूं? मैं इनसे लड़ने के लिए आर्थिक या अन्य रूप से भी सक्षम नहीं हूं. मेरी आवाज तो उनके कानों तक पहुंचेगी भी नहीं. कई लोगों ने मुझसे कहा कि इनसे भिड़ना मूर्खता है. यह लोग बडी आसानी से अपने आपको बचा लेंगे. इसलिए अब सब कुछ आप लोगो पर पर निर्भर करता है. आप लोग यूट्बर पर इस तरह के वीडियो डालकर मेरी मदद करें.