तलाक किसी का भी हो, आम इनसान का या किसी सैलिब्रिटी का, दुखदाई ही होता है और इस का सब से बुरा असर बच्चों पर पड़ता है. वैसे भी जिस पर बीतती है, वही जानता है पर ‘जो अफसाना जिसे अंजाम तक लाना न हो मुमकिन उसे एक खूबसूरत मोड़ दे कर छोड़ना ही अच्छा है’ की तर्ज पर क्यों न किसी रिश्ते को जबरदस्ती ढोने के बजाय शालीनता से छोड़ दिया जाए. आम लोग फिल्मी सितारों की ऊपरी चकाचौंध, उन की फिगर, उन की ऐक्टिंग से प्रभावित हो कर उन्हें एक अलग ही दुनिया के लोग मानने लगते हैं. मगर अचानक उन के निजी जीवन से संबंधित कुछ कटु सत्य सामने आते ही हम उन के सब से बड़े आलोचक बन जाते हैं. हम यह भूल जाते हैं कि वे हमारी तरह साधारण इनसान नहीं हैं. निजी जीवन की बातें सार्वजनिक  होने पर कैरियर और निजी जीवन में तालमेल बैठाए रखना आसान नहीं होता है.

इन दिनों फिल्मी सितारों के टूटते रिश्तों की लिस्ट लंबी होती जा रही है, पर इन्होंने अलग होने के कारणों पर चर्चा न करते हुए टूटते रिश्ते की भी गरिमा बनाए रखी. आइए एक नजर डालते हैं ऐसे ही कुछ सितारों के दुखद पर शालीन संबंधविच्छेद पर:

फरहान अख्तर और अधुना भबानी

स्टाइलिश, क्रिएटिव और अतिप्रतिभावान यह जोड़ा जहां भी जाता लोग प्रशंसा भरी नजरों से देखते. साल 2000 में दोनों ने विवाह किया था. इन के अलग होने की घोषणा से सब हैरान रह गए. इन्होंने अलग होने पर भी यही कहा कि इन की दोनों बेटियां शक्या (16) और अकीरा (9) हमेशा उन की प्राथमिकता रहेंगी और वे हमेशा व्यावसायिक रूप से एकदूसरे के साथ काम करते रहेंगे.

रितिक और सुजैन खान

ये दोनों विवाह के 13 साल बाद अलग हो गए. दोनों बचपन के दोस्त थे. जब वे साथ नहीं हैं तो भी मातापिता की जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं. दोनों का कहना है कि अलग होने के बावजूद साथ काम करते रहेंगे. दोनों कोशिश कर रहे हैं कि उन के दोनों बेटे रेहान (9) और रेदान (7) सामान्य जीवन बिताएं. रितिक आज भी अपना संडे बच्चों के साथ बिताते हैं. सुजैन ने एक वार्त्तालाप में यह कहा कि बच्चों के मामले में उन का रितिक से रिश्ता बहुत अच्छा है. वे अच्छे मातापिता हैं और बच्चे उन की प्राथमिकता हैं.रणवीर शौरी और कोंकणा सेन शर्मा कला और फिल्मों के शौकीन ये दोनों आदर्श पतिपत्नी थे. फिर शादी के 5 साल बाद ही दोनों ने 2015 में सोशल मीडिया पर अपने संबंधविच्छेद की घोषणा कर दी. दोनों ने कहा कि वे दोस्त रहेंगे और अपने बेटे हारुन की जिम्मेदारी मिल कर उठाएंगे.

जैनिफर विंगेट और करण सिंह ग्रोवर

करण ने अपनी पहली पत्नी श्रद्धा निगम से विवाह के 3 साल बाद 2013 में जैनिफर से विवाह किया. यह भी नहीं चला. करण ने भी 2014 में सोशल मीडिया पर कहा कि वे अलग हो गए हैं. कारण बहुत पर्सनल हैं. जैनिफर ने भी हाल ही में पोस्ट किया कि वे करण को आगे बढ़ता देख कर खुश हैं और उन्हें और उन की पार्टनर को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देती हैं.

कल्कि और अनुराग कश्यप

2011 में जैसे शांति से इन का विवाह हुआ था वैसे ही 2015 में इन का तलाक भी हो गया. वे विवाह से पहले 2 साल तक लिव इन में भी थे. आज जहां अनुराग कल्कि के थिएटर की प्रशंसा करते हैं, वहीं कल्कि भी अनुराग की सफलता सैलिब्रेट करती हैं. तलाक के बाद कल्कि ने कहा भी था कि वे दोनों एकदूसरे को प्यार करते हैं. हम आज भी दोस्त हैं और चैट करते हैं, मिलते हैं. अनुराग अच्छे दिल का इनसान है.

रघुराम और सुगंधा गर्ग

‘रोडीज’ से फेमस रघुराम और उन की अभिनेत्री पत्नी सुगंधा ने हाल ही में अलग होने का फैसला किया. उन का वैवाहिक जीवन 10 साल चला. वे आज भी मिलते हैं और दोनों के बीच कोई मनमुटाव नहीं है. वे अच्छे दोस्त हैं और दोस्त बने रहेंगे. शालीनता से अलग होना ठीक ही तो है कि जब कहीं एकदूसरे से आमनासामना हो, तो कम से कम दिलों में शर्मिंदगी तो न हो. पतिपत्नी न सही, अगर दोस्त बन कर ही रह सकें तो क्या बुरा है?

COMMENT